राजेन्द्र शर्मा, विदिशा।

गंजबासौदा में सोमवार की रात विंध्याचल एक्सप्रेस ट्रेन में युवती द्वारा युवक के चेहरे पर तेजाब नहीं बल्कि मुंह में पेट्रोल भरकर उसे युवक के चेहरे पर फेंका था। इसके बाद युवती ने लाइटर से आग लगाई थी। यह सनसनीखेज खुलासा जिला अस्पताल में भर्ती पीड़ित युवक सचिन साहू ने नवदुनिया से बातचीत में किया है। गंजबासौदा के पचमा रोड निवासी 30 वर्षीय सचिन ने बताया कि वह विदिशा के जियो कार्यालय में काम करता है। सोमवार की शाम को करीब सात बजे वह विंध्याचल एक्सप्रेस से विदिशा से गंजबासौदा के लिए जनरल बोगी में सवार हुए थे। ट्रेन में ज्यादा भीड़ नहीं थी। वे बोगी में तीन यात्रियों के साथ बीच में बैठे थे। उनके सामने एक दोस्त भी बैठा था। दोनों आपस में बातें करते जा रहे थे। रात करीब आठ बजे ट्रेन की रफ्तार गंजबासौदा स्टेशन के पहले आउटर पर जैसे ही धीमी हुई हुई, अचानक एक युवती पीछे के केबिन से निकलकर सामने आई और उसने मुंह में भरा तरल पदार्थ फव्वारे के रूप में चेहरे पर फेंका और लाइटर से चेहरे पर आग लगा दी। यह सब इतनी तेजी से हुआ कि वे युवती का चेहरा तक नहीं देख पाए। वे चहरे पर मास्क लगाए हुए थे। आग लगते ही उनका चेहरा झुलसने लगा। उन्होंने जर्किन पहनी थी। उसमें भी आग लग गई। आसपास बैठे यात्री भी बुरी तरह घबरा गए। इनमें से एक यात्री ने तत्काल उनके चेहरे पर कम्बल डाला और आग बुझाने का प्रयास किया। आग बुझते तक उनके बाल और चेहरा बुरी तरह झुलस गया। इसी दौरान किसी यात्री ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोक दिया। थोड़ी देर में ही जीआरपी के जवान बोगी में पहुंचे और उसे स्थानीय अस्पताल ले गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रैफर कर दिया।

चलती ट्रेन में कूदकर भागी युवती

सचिन के मुताबिक आउटर पर ट्रेन की गति काफी धीमी थी। घटना को अंजाम देकर युवती चलती ट्रेन से ही कूदकर भाग गई। इसके बाद चेन पुलिंग हुई। उन्होंने दोहराया कि वह युवती को नहीं जानता है।

जीआरपी ने शुरू की जांच, लिए बाल के नमूने

गंजबासौदा में फिल्मी तर्ज पर घटी इस घटना के बाद जीआरपी भी हरकत में आ गई है। जीआरपी एसपी हितेश चौधरी के निर्देश पर भोपाल से एसडीओपी उमेश शुक्ला रात में ही गंजबासौदा पहुंच गए थे। उन्होंने पीड़ित युवक से बात भी की थी। वे दूसरे दिन मंगलवार को फिर गंजबासौदा पहुंचे। यहां उन्होंने डाक्टरों से पीड़ित के बाल के नमूने लिए, ताकि पता चल सके कि युवक कौन से ज्वलनशील पदार्थ से झुलसा है। एसडीओपी शुक्ला ने बताया कि पीड़ित युवक अब तक युवती के बारे में कोई जानकारी नहीं दे पाया है। वे सायबर सेल की मदद से युवक की काल डिटेल रिपोर्ट भी निकलवा रहे है। पुलिस इसे प्रेम प्रसंग का मामला मानकर चल रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local