विदिशा(नवदुनिया प्रतिनिधि)। पिछले तीन साल से ग्राम मूडरा हरीसिंह का किसान अपने खेत पर पहुंचने के लिए रास्ता नहीं मिलने से परेशान है। मंगलवार को उसके स्वजन जनसुनवाई में पहुंचे और रास्ता दिलाने की मांग की। किसान का कहना था कि पहले सरकारी जमीन पर 50 फिट चौड़ा रास्ता था, लेकिन कुछ लोगों ने उस पर कब्जा कर लिया है। इससे उसे अपने खेत पर पहुंचने के लिए चार किमी लंबा घूमकर जाना पड़ता है। किसान करोड़ीलाल ने बताया कि तीन साल पहले तक वह सरकारी जमीन पर बने रास्ते से होकर अपने खेत पर पहुंच जाता था, लेकिन अब लोगों ने उस पर कब्जा कर लिया है। रास्ते की मांग को लेकर उन्होंने तहसील में आवेदन दिया था। मौके पर पहुंचे तहसीलदार ने पंचनामा भी बनाया था, तब कब्जाधारियों ने फसल कटने के बाद रास्ता देने की बात कही थी, लेकिन बात में उन्होंने मना कर दिया। किसान का कहना था कि पिछले साल जब वह अपने खेत पर ट्रेक्टर लेकर गया तो दूसरे के खेत में एक पहिया चला गया था जिसके बदले में उसे दो बोरा गेहूं देना पड़ा था। इसके बाद अब वह चार किलोमीटर घूमकर खेत पर पहुंचता है। ग्यारसपुर एसडीएम तन्मय वर्मा ने किसान की बात सुनकर जल्दी ही मामले की जांच कराने का आश्वासन दिया है। बता दें कि मंगलवार को ग्यारसपुर एसडीएम वर्मा ने ही जनसुनवाई की। इस मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचे और अपनी समस्याएं बताईं।

लैपटाप दिलाने की मांग

ग्राम इमलिया निवासी नेत्रहीन विद्यार्थी अजय शर्मा अपने स्वजनों के साथ जनसुनवाई में पहुंचा। उसका कहना था कि आइटीआई कर रहा है। इसके लिए उसे लेपटाप की जरूरत पढ़ रही है। आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण वह स्वयं लेने में अस्मर्थ है। अधिकारियों ने उसे आश्वासन दिया है कि जल्दी ही उसे लेपटाप दिला दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close