विदिशा(नवदुनिया प्रतिनिधि)। पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में एक जुलाई को सिरोंज और नटेरन जनपद पंचायत क्षेत्र में चुनाव होना हैं। इन क्षेत्रों में करीब 13 गांव ऐसे हैं जहां बदहाल सड़कें मुसीबत बनेंगी। स्थानीय प्रशासन ने इन क्षेत्रों में मतदान दलों को पहुंचाने के लिए ट्रैक्टर ट्रालियों की व्यवस्था की हैं। सिरोंज जनपद क्षेत्र में 93 ग्राम पंचायतों में पंच, सरपंच, जनपद सदस्य और जिला पंचायत सदस्यों के लिए मतदान होना हैं। एसडीएम प्रवीण प्रजापति ने बताया कि मतदान के लिए 237 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, इनमें छह केंद्र ऐसे हैं जहां सड़क की समस्या हैं। इसके लिए छह ट्रैक्टर ट्रालियों की व्यवस्था की गई हैं।उनके मुताबिक क्षेत्र में ऐसा कोई केंद्र नहीं हैं जहां वर्षा के दौरान पहुंचना मुश्किल हो। उन्होंने बताया कि मतदान के लिए 23 सेक्टर दल बनाए गए हैं।यह दल मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन करेंगे। मंगलवार को कलेक्टर उमाशंकर भार्गव भी क्षेत्र के मतदान केंद्रों का निरीक्षण करेंगे। इधर, नटेरन एसडीएम विजय राय के मुताबिक उनके क्षेत्र में 84 ग्राम पंचायतों में चुनाव होना हैं। इसके लिए 237 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।सात केंद्रों तक पहुंचने में सड़क की परेशानी हैं।इसके लिए ट्रैक्टरों की व्यवस्था की है। सोमवार को कलेक्टर भार्गव ने भी जोगी किर्रोदा और पैरवासा में बनाए गए केंद्रों का निरीक्षण किया।

नटेरन में केंद्रों के बाहर लगेंगे वाटर प्रूफ टेंट

नटेरन जनपद क्षेत्र में 30 मतदान केंद्र ऐसे हैं जहां मतदाताओं को मतदान के लिए खुले मैदान में खड़ा होना होगा। इस दौरान वर्षा हुई तो मतदाताओं को परेशानी हो सकती हैं।इसी को देखते हुए प्रशासन ने इन केंद्रों के बाहर वाटर प्रूफ टेंट लगाने की व्यवस्था की हैं। एसडीएम राय ने बताया कि मंगलवार से सभी सेक्टर दल मतदान केंद्रों का निरीक्षण करेंगे। जिन केंद्रों पर कमियां पाई जाएंगी, वहां मतदान के पहले दूर किया जाएंगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close