गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। नागरिक सेवा समिति के संस्थापक स्मृति शेष विशन भाई के 103वे जन्म दिवस के उपलक्ष में शुक्रवार को नागरिक सेवा समिति ने मानव सेवा के कार्य किए। इस दौरान कार्यालय पर स्थापित स्व.भाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इसके बाद मानस भवन में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक लीना जैन, कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर पालिका अध्यक्षा शशि यादव ने की, कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व विधायक हरिसिंह रघुवंशी, विशेष अतिथि के रुप में विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय सहमंत्री राजेश तिवारी, समाज सेविका एवं भाजपा नेत्री रीता देवी भावसार, वार्ड न.24 की नवनिर्वाचित पार्षद अंशलेखा भावसार, रामायण मंडल ट्रस्ट के अध्यक्ष वरिष्ठ एडवोकेट मदन मोहन तिवारी, विशेष अतिथि के रुप में नागरिक सेवा समिति के अध्यक्ष कांति भाई शाह ने भगवान श्री कृष्ण, भारत माता एवं समिति के संस्थापक स्वर्गीय विशन भाई के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर माल्यार्पण कर कार्यक्रम को विधिवत आरंभ किया गया। कार्यक्रम में नागरिक सेवा समिति परिवार की ओर से अतिथियों का शाल. श्रीफल. भेंट कर पुष्प गुच्छ एवं पुष्प मालाओं से तथा वहीं उपस्थित गणमान्य नागरिकों ने भी अतिथियों को फूल मालाएं पहनाकर स्वागत सम्मान किया गया। कार्यक्रम में शामिल ग्रामीण अंचलों से आई हुई महिलाओं को साड़ियां, बच्चियों एवं बच्चों को शर्ट एवं टी.शर्ट वितरित किए गए। वहीं भोजनालय पर जरूरमंदों को भोजन का वितरण किया गया।

इस कार्यक्रम में नागरिक सेवा समिति के उपाध्यक्ष सुरेश कुमार तनवानी, कोषाध्यक्ष शंभू दयाल शर्मा, ब्रजकिशोर सुहाने, दमयंती धर्म कांटा सेवार्थ के संचालक समाजसेवी योगेश शाह, दमयंती बेन, शंभू दयाल शर्मा, सत्यपाल तनवानी, विनोद कुमार शाह, चेतन शाह, गोविंद नारायण खंडेलवाल, तुलसीराम नामदेव, संतोष शर्मा, कोमल सुभाष शाह, केयूर शाह, वीरम शाह, मुकेश रघुवंशी, महेंद्र सिंह ठाकुर फौजी, देवी प्रसाद भावसार, राम गोपाल गुप्ता, विनीत अरोरा, महेंद्र सिंह सूर्यवंशी, मयंक टॉक, बाबू राम सचान, अशोक अग्रवाल मंकु, मेहरबान सिंह राजपूत, प्रकाश महेश्वरी, केशव राजपूत, सुरेश ताम्रकार, तेज नारायण श्रीवास्तव, लाल बहादुर ताम्रकार, दिलीप देसाई, प्रदीप नेमा, राजेंद्र जैन ,कपिल शर्मा, दीपक शर्मा, संतोष शर्मा, मैनेजर देवी लाल कुशवाह सहित समिति के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close