विदिशा(नवदुनिया प्रतिनिधि)। दो वर्ष तक नगर पालिका में प्रशासक राज होने के बाद आज शनिवार से नई नगर सरकार अस्तित्व में आ जाएंगी। दोपहर 12 बजे आडिटोरियम हाल में आयोजित समारोह में जनता के चुने हुए प्रतिनिधि शपथ ग्रहण करेंगे। इसी के साथ नई परिषद पर चुनाव पूर्व जनता से किए गए वादों को पूर्ण करने की जिम्मेदारी भी आ जाएंगी। परिषद को भाजपा के संकल्प पत्र को साकार करना होगा तभी वे मतदाताओं के भरोसे पर खरा उतर पाएंगे। कोरोना महामारी के चलते विदिशा नगर पालिका में दो साल तक चुनाव नहीं हो पाए, जिसके कारण नपा का संचालन प्रशासक के माध्यम से होता रहा। इन दो वर्षों के दौरान नपा में जनता के चुने हुए प्रतिनिधि नहीं होने और राज्य सरकार से अनुदान नहीं मिलने के कारण शहर के हाल - बेहाल हो गए। अब चुनाव के बाद शहर की जनता ने फिर भाजपा के प्रत्याशियों पर भरोसा करते हुए स्पष्ट बहुमत के साथ उन्हें नई परिषद की जिम्मेदारी सौंपी है। चुनाव परिणामों की घोषणा और नपा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के निर्वाचन के बाद अब शनिवार को नपा का शपथ ग्रहण समारोह हो रहा है, जिसमें शपथ ग्रहण के बाद नपा अध्यक्ष शहर के 21 वें अध्यक्ष के रूप में अपना कार्यभार संभालेंगी।

कार्तिकेय की मौजूदगी में होगी शपथ

नई परिषद का शपथ ग्रहण समारोह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पुत्र कार्तिकेय चौहान की अध्यक्षता में होगा। कार्तिकेय चुनाव प्रचार के दौरान भी विदिशा आए थे।उन्होंने शहर में वाहन रैली निकालकर भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में शहर के मतदाताओं से वोट मांगे थे। अब प्रत्याशियों की विजय के बाद स्थानीय नेताओं ने कार्तिकेय को ही शपथ में आने का न्योता दिया था, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया। उनके सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद नए राजनैतिक समीकरणों की चर्चाओं को भी बल मिलेगा। इस समारोह में सांसद रमाकांत भार्गव, भाजपा जिला अध्यक्ष राकेश जादौन और पूर्व नपा अध्यक्ष मुकेश टंडन भी मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम में नवनिर्वाचित अध्यक्ष प्रीति शर्मा, उपाध्यक्ष संजय दिवाकीर्ति सहित अन्य पार्षद शपथ ग्रहण करेंगे।

संकल्प पत्र को याद रखना होगा जरूरी

शहर के नागरिकों का कहना है कि भाजपा ने चुनाव पूर्व शहर विकास को लेकर 22 बिंदुओं का संकल्प पत्र जारी किया था, जिसमें शहर की बुनियादी समस्याओं को दूर करने के अलावा शहर को नया स्वरूप देने की बात कही गई थी। शहर के सामाजिक कार्यकर्ता विनोद शाह का कहना है कि पिछले दो वर्षो से नपा में चुनी हुई परिषद नहीं होने के कारण कर्मचारियों की मनमर्जी से शहर में काम हुए। जिसके कारण शहर विकास कार्यों में काफी पिछड़ गया। अब चुनी हुई परिषद को कार्ययोजना बनाकर शहर का विकास करना चाहिए।

सीएमओ के कक्ष में बैठेगी नपा अध्यक्ष

नई परिषद के बैठने के लिए नगर पालिका में तैयारियां जोरों पर है। पुराने जिला अस्पताल भवन में बने नपा कार्यालय में अध्यक्ष के लिए सीएमओ के कक्ष का चयन किया गया हैं। यहां शुक्रवार को दिन भर तैयारियां चलती रही। बस स्टैंड से नपा कार्यालय पुराने जिला अस्पताल भवन में आने के बाद ही अध्यक्ष का कार्यकाल समाप्त होने की वजह से यहां अध्यक्ष की बैठक व्यवस्था नहीं बन पाई थी। अब नई परिषद में अध्यक्ष सहित उपाध्यक्ष और सभापतियों के लिए कक्ष बनाए जा रहे हैं। नपा अध्यक्ष कार्यालय में नई कुर्सियां और टेबल की व्यवस्था की गई हैं।

इन संकल्पों के पूर्ण होने की दरकार

- संपत्ति कर, जल कर और नपा की दुकानों का किराया कम करना।

- शहर के विभिन्ना वार्डो में होने वाले जल भराव को रोकने सुनियोजित तरीके से जल निकासी के इंतजाम करना।

- शहर के हर घर में नल से जल पहुंचाने के लिए नवीन वाटर वर्क्स और नवीन पेयजल टंकियों का निर्माण कर सभी वार्डों में पाइप लाइन बिछाना।

- शहर के नागरिकों की समस्याओं के निराकरण के लिए नपा कार्यालय में हेल्प डेस्क शुरू करना।

- शहर के वार्डों की गलियों, मोहल्लों और चौक - चौराहों पर प्रकाश व्यवस्था करना।

- शहर के यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए बाल विहार के पास, बड़े बाजार के पास और खाई रोड पर पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित करना।

- शहर में हर दो वार्डो के मध्य एक सर्व सुविधायुक्त स्वास्थ्य केंद्र को शुरू कराना। दुर्गानगर क्षेत्र में आयुर्वेदिक औषधालय शुरू कराना।

- शहर में सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने सभी प्रमुख सड़कों पर सीसीटीवी लगवाना ।

- शहर के सरकारी स्कूलों में बच्चों की सुख सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए स्कूल भवनों का निर्माण कराना।

- शहर में गोशाला का निर्माण, पुरानी सड़कों का उन्नायन और अवैध कालोनियों को वैधता प्रदान कर उनका विकास कराना।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close