Vidisha News : विदिशा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में करीबी रिश्तों का स्याह चेहरा उजागर करने वाली घटना सामने आई है, जिसमें शादीशुदा 40 वर्षीय फुफेरे भाई ने नाबालिग लड़की (मामा की बेटी) को अपनी हवस का शिकार बना लिया।

घटना करीब तीन माह से ज्यादा पुरानी है, जिसकी जानकारी जिला मुख्यालय के एक छात्रावास में हुई चिकित्सा जांच में सामने आई, जिसमें बच्ची को गर्भवती बताया गया। इसके बाद पीड़ित बालिका ने पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी। आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पीड़िता की स्थिति को देखते हुए गर्भपात कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

एएसपी समीर यादव ने बताया कि छात्रावास में रहकर कक्षा सातवीं की पढ़ाई कर रही छात्रा नियमित स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान जब तीन माह की गर्भवती पाई गई तो पूछताछ की गई। उसने बुआ के 40 वर्षीय बेटे पर ज्यादती का आरोप लगाया। करीब पांच दिन पहले छात्रावास के माध्यम से छात्रा के गर्भवती होने की सूचना जिला बाल कल्याण समिति तक पहुंची।

समिति अध्यक्ष प्रेम सिंह धाकड़ और अन्य सदस्यों ने छात्रा की काउंसिलिंग के बाद प्रकरण को महिला पुलिस थाने में भेज दिया। समिति के अध्यक्ष ने बताया कि छात्रा के पिता की मृत्यु हो चुकी है और मां उसे छोड़कर चली गई। दो भाई और बहन अकेले गांव में रहते हैं।

भाई ने उसे गांव के नजदीक के छात्रावास में भर्ती करा दिया था। बाल कल्याण समिति और पुलिस को छात्रा ने बताया कि चार माह पहले वह छात्रावास से अपने घर गई थी। इसी दौरान उसका फुफेरा भाई घर आया था और पत्नी के हाथ में फ्रैक्चर होने की बात कहकर उसे अपने घर ले गया था।

एक दिन भाई उसे खेत पर बने मकान पर ले गया, जहां मारपीट कर उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद वह मौका पाते ही दुष्कर्म करने लगा। मारपीट और धमकी देने के कारण उसने यह बात छिपा कर रखी थी। महिला थाना प्रभारी ने बताया कि जांच प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद छात्रा को बालगृह भोपाल भेजा जाएगा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close