Vidisha News: विदिशा (नवदुनिया प्रतिनिधि)। अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे पंचायत कर्मचारी रोजाना नए-नए तरीकों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। सोमवार को नटेरन विकासखंड के पंचायत कर्मचारियों ने गधे पर बैठकर पूरे बाजार में जुलूस निकाला। इस दौरान कर्मचारी हाथों में काले मटके भी रखे हुए थे। रिमझिम बारिश में भीगते हुए कर्मचारी अपनी मांगों के संबंध में नारेबाजी करते हुए नटेरन के मुख्य बाजार और बस स्टैंड पर जुलूस की शक्‍ल में निकले। इससे पहले कर्मचारियों ने अलग-अलग विकासखंड में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया था। वहीं विदिशा सहित ग्यारसपुर, कुरवाई, सिरोंज में पंचायत कर्मचारियों ने सरकार की सद्बुद्धि के लिए सुंदरकांड का पाठ भी किया था।

संयुक्त मोर्चा के जिला संयोजक आरपी राय का कहना है कि संगठन ने 12 जुलाई को ही शासन के नाम ज्ञापन देकर अपनी मांगों का निराकरण करने का अनुरोध किया था। इस दौरान सात दिन का समय भी दिया गया था, लेकिन शासन ने कोई निर्णय नहीं लिया इसलिए मजबूरन जिले के करीब 18 विभागों के डेढ़ हजार कर्मचारियों को हड़ताल पर जाना पड़ा।

गौरतलब है कि पंचायत कर्मचारी 19 जुलाई से कामकाज बंद करके बैठे हैं। इस हड़ताल में सचिव, रोजगार सहायक, उपयंत्री, मनरेगा कर्मचारी, आजीविका मिशन, कार्यालयों में पदस्थ संविदा कर्मचारी आदि शामिल हैं। कर्मचारी स्थायी नियुक्ति, अनुकंपा नियुक्ति, वेतन संबंधी आदि मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से पंचायतों का कामकाज और विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पंचायत स्तर से लेकर जिला पंचायत भवन में कुर्सियां खाली हैं। इस दौरान दूरदराज से आने वाले ग्रामीणों को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local