विदिशा (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना की तीसरी लहर प्रदेश के साथ साथ विदिशा में भी कहर मचा रही है। 6 से 11 साल तक के बच्चों में भी संक्रमण पाया जा रहा है। ऐसे में सरकार द्वारा चलाये जा रहे दस्तक अभियान में बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाना जरूरी है। मंगलवार से जिले में दस्तज अभियान की शुरुआत हुई है, 22 फरवरी तक चलने वाले इस अभियान में जिले के 1 लाख 42 हजार बच्चों को ये खुराक दी जाएगी। विटामिन ए की ये खुराक 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को दी जा रही है, इससे बच्चों में इम्युनिटी बढ़ेगी जो बीमारियों से लड़ने में मदद करेगी। जिला अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ प्रमोद मिश्रा बताते हैं कि विटामिन ए बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ायेगा जिससे कोरोना से भी लड़ने में मदद मिलेगी। बच्चों में संक्रमण हो सकता है लेकिन उसके लक्षण नहीं दिखाई देंगे। डॉ मिश्रा बताते हैं कि ये खुराक 9 से 5 वर्ष तक के बच्चों को पिलानी बहुत जरूरी है, इससे आंखों की रोशनी भी तेज होती है। हर माता पिता को इस पर ध्यान रखना चाहिए।

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ दिनेश शर्मा ने मंगलवार को शहर

की आंगनवाड़ी केंद्र क्रमांक 102 कुम्हार गली में बच्चों को घोल पिलाकर इसका शुभारंभ किया। कार्यक्रम में एएनएम शांता नायर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता पूनम नेमा, सहायिका पूजा शर्मा मीडिया अधिकारी बीएस दांगी व अन्य उपस्थित रहे। डॉ दिनेश शर्मा ने बताया कि जो बच्चे विटामिन ए की दवा पीने से वंचित रहेंगे उनको घर-घर जाकर भी ये दवा पिलाई जाएगी। दस्तक और विटामिन ए अनुपूरण अभियान के तहत माताओं को ओआरएस बनाने की विधि, हाथ धोने की विधि, बच्चों में कुपोषण के चिन्ह, एनीमिया की पहचान, दस्त रोग के लक्षणों की पहचान एवं निमोनिया के लक्षणों की भी जानकारी दी गई।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local