BHU entrance exam 2020: काशी (बनारस) हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) ने अपनी प्रवेश परीक्षा को लेकर बड़ा फैसला किया है। BHU ने हालांकि प्रवेश परीक्षा की तिथियों की घोषणा नहीं की है, लेकिन परीक्षा केंद्र को लेकर उसने प्रवेश के इच्छुक विद्यार्थियों को राहतभरा विकल्प दिया है। कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को देखते हुए BHU ने ऐसे सभी परीक्षार्थियों को प्रवेश परीक्षा केंद्र के शहर को बदलने मौका दिया है। ये वो परीक्षार्थी हैं जो कोरोना वायरस के बीच लगाए गए लॉकडाउन के कारण आवेदन के समय चुने गए शहर की बजाय वर्तमान में किसी दूसरे शहर में रह रहे हैं। आवेदन करने वाले संबंधित अभ्यर्थी 20 जून तक ऑनलाइन केंद्र का विकल्प दे सकते हैं। दरअसल इन छात्रों के परीक्षा के लिए मूल प्रथम वरीयता परीक्षा केंद्र वाले शहर में पहुंचना कठिन होगा, इसे देखते हुए BHU ने ये विकल्प दिया है।

बता दें कि BHU में नए शैक्षणिक सत्र 2020-21 में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए परीक्षा होनी है। इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया समाप्त हो चुकी है। हालांकि प्रवेश परीक्षाओं की तिथियों की घोषणा अभी नहीं हुई है। प्रवेश परीक्षा के लिए इस बार करीब सवा 5 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। BHU देश के करीब 202 शहरों में ऑनलाइन परीक्षा कराने की तैयारी है। इनमें से वाराणसी में ऑफलाइन परीक्षा भी होगी।

नियमों के मुताबिक अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र को लेकर 5 विकल्प दे सकते हैं। ये विकल्प वरीयता के अनुसार ही होते हैं।अधिकांश अभ्यर्थी उस शहर या स्थान को प्रथम वरीयता में भरते हैं जहां वे परीक्षा के समय में रहते हैं या फिर पढ़ाई कर रहे होते है। पर अब विश्वविद्यालय ने ऐसे अभ्यर्थियों को प्रथम वरीयता के केंद्र के विकल्प में बदलाव का मौका दिया है।

ऐसे बदलें परीक्षा केंद्र

- BHU प्रवेश परीक्षा के लिए केंद्र बदलने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके लिए अभ्यर्थी सबसे पहले प्रवेश परीक्षा पोर्टल www.bhuonline.in पर जाएं

- यहां पोर्टल पर अपने लॉगिन आईडी और पासवर्ड की मदद से लॉग इन करें

- इसके बाद "सेंटर चेंज' के ऑप्शन पर क्लिक करें।

- इसके बाद UET2020/PET 2020 में दिए गए परीक्षा केंद्र शहरों की सूची में से अपने नजदीकी प्रथम वरीयता वाले शहर का चयन करें

- परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे परीक्षा केंद्र का चयन बहुत सावधानी और सोच-विचार के बाद करें क्योंकि परीक्षा केन्द्र/शहर में परिवर्तन का मौका केवल एक बार ही दिया जाएगा

- BHU ने इसके लिए 20 जून 2020 अंतिम तिथि रखी है। इसके बाद परीक्षा केन्द्र में परिवर्तन के लिए अनुरोध पर विचार नहीं किया जाएगा।

BHU द्वारा जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक जिन उम्मीदवारों ने BHU प्रवेश परीक्षाओं यूईटी 2020 (UET 2020) या पीईटी 2020 (PET 2020) के लिए 12 मार्च तक आवेदन किया है, वे ही अपने प्रवेश परीक्षा केंद्र शहर में बदलाव कर सकेंगे। BHU ने बताया कि यदि आवेदक द्वारा चयनित शहर में परीक्षा संसाधन मौजूद नहीं होगा तो चयनित शहर से 200 किलोमीटर के दायरे में किसी दूसरे शहर में समायोजित किया जाएगा।

Posted By: Rahul Vavikar

  • Font Size
  • Close