CoronaVirus in Rajaasthan: कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन की मौजूदा स्थिति में देशभर के तमाम स्कूल-कॉलेज की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई है। इसी कड़ी में अब राजस्थान उच्च शिक्षा विभाग ने भी बड़ा फैसला किया है। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश की सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में अनिश्चितकाल के लिए परीक्षाएं स्थगित कर दी है। कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विभाग ने कॉलेजों में 16 अप्रैल से 30 मई तक गर्मी की छुट्टियां घोषित कर दी है। राज्य सरकार का आकलन है कि इस अवधि तक राज्य में कोरोना की स्थिति काबू में आ जाएगी।

राजस्थान के उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने घोषणा करते हुए बताया कि राजस्थान यूनिवर्सिटी के कुलपति आर.के. कोठारी के नेतृत्व में स्थिति की समीक्षा के लिए एक समिति का गठन किया गया है। ये समिति लगातार कोरोना की स्थिति को लेकर समीक्षा करेगी और एक रिपोर्ट तैयार कर उच्च शिक्षा विभाग को सौंपेगी। समिति विभाग को सुझाव देगी कि स्थिति सामान्य होने के बाद परीक्षा कैसे शुरू की जाए। रिपोर्ट आने के बाद राज्य सरकार अन्य विभागों से चर्चा कर परीक्षाओं की नई तारीखों के संबंध में घोषणा करेगी। उन्होंने बताया कि उच्च शिक्षा विभाग का यह फैसला निजी और सरकारी दोनों उच्च शिक्षा संस्थानों पर लागू होगा।

स्कूली बच्चों को दिया प्रमोशन

लगभग सभी राज्यों में स्कूली छात्रों को प्रमोशन देकर बिना परीक्षा ही अगली कक्षा में प्रवेश दिया गया है। राजस्थान में भी पहली से लेकर 8वीं तक और 9वीं क्लास के छात्रों को अगली प्रमोट किया गया है। इसके बाद अब कॉलेजों की परीक्षाएं अनिश्चितकाल के लिए टालनी पड़ी है।

सभी जगह परीक्षाएं टलीं

बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण देश भर में स्कूल-कॉलेज, यूनिवर्सिटी, प्रवेश परीक्षाएं, भर्ती परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। इसके अलावा राजस्थान में स्थिति गंभीर बनी हुई है। यहां शुरुआत में काफी तेजी से कोरोना के मामले सामने आए। हालांकि बाद में राज्य सरकार ने प्रभावी कदम उठाते हुए यहां स्थिति को काबू में किया। बावजूद इसके राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों से पॉजिटिव केस मिल रहे हैं।

राजस्थान की ये है स्थिति

राजस्थान में अभी तक कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 800 से ज्यादा हो गया है। मुंबई और दिल्ली के बाद सबसे ज्यादा मरीज राजस्थान में हैं। राजस्थान में अब तक 10 लोगों की कोरोना के कारण मौत हुई है। इनमें से 9 बुजुर्ग थे, जबकि रविवार को जयपुर के ईदगाह में 13 साल की एक बच्ची की मौत हुई वह फरीदाबाद की रहने वाली थी। निमोनिया के कारण उसे 8 अप्रैल को जयपुर के जेकेलॉन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शनिवार देर रात उसकी मौत हुई। रविवार को उसकी रिपोर्ट आई तो वो कोरोना पॉजिटिव निकली।

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस के अब तक 9152 मामले सामने आ गए हैं। इनमें से 857 लोग ठीक हो गए हैं और 308 लोगों की मौत हो गई है जबकि 7987 लोगों का इलाज जारी है।

Posted By: Rahul Vavikar

  • Font Size
  • Close