DU Admission: देश भर के छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी है। अगले एकेडमिक सेशन से दिल्ली यूनिवर्सिटी को पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेस में CUET के जरिए एडमिशन होगा। यानी अगर दिल्ली यूनिवर्सिटी के पीजी कोर्स में दाखिला चाहिए तो कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) देने के लिए तैयार हो जाइए। मंगलवार को हुई अहम बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। इसका सबसे बड़ा फायदा उन राज्यों के प्रतिभाशाली छात्रों को होगा, जो राज्य बोर्ड से ग्रेजुएशन करते हैं और उनके बहुत हाई मार्क्स नहीं आते। साथ ही उन छात्रों के लिए भी मौका है, जो ग्रेजुएशन में अच्छे मार्क्स नहीं ला पाए। इन छात्रों को CUET के अंकों के आधार पर दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ने का मौका मिल सकता है।

बैठक में प्रस्ताव को मिली मंजूरी

Delhi University Academic Council (AC) की तरफ से मंगलवार को एक अहम मीटिंग की गई जिसमें फैसला लिया गया है कि अगले एकेडमिक सेशन से पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेस के लिए भी CUET परीक्षा देनी होगी। वहीं अगर कोई छात्र पहले से ही डीयू में पढ़ रहा होगा तो उनके लिए पीजी कोर्स में कुछ सीटें आरक्षित रखी जाएंगी और मेरिट के जरिए उनका दाखिला होगा। आपको बता दें कि वर्तमान में जो छात्र डीयू में पढ़ते हुए ही वहां पर पीजी कोर्स भी करना चाहते हैं, उन्हें एक परीक्षा देनी होती है और फिर मेरिट के आधार पर एडमिशन होता है। इस तरह 50 फीसदी सीटें भरी जाती हैं। वहीं बाकी 50 फीसदी सीटों पर एडमिशन के लिए डीयू पोस्ट ग्रेजुएट एंट्रेंस टेस्ट करवाया जाता है। वैसे लंबे समय से ये मांग की जा रही थी कि इन अलग-अलग टेस्ट की जगह पीजी कोर्स के लिए भी सिंगल कॉमन टेस्ट आयोजित किया जाए। इसी कड़ी में Delhi University Academic Council ने ये बड़ा

फैसला लिया है।

कमेटी की तरफ से ये सुझाव भी दिया गया है कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की तरफ से इस टेस्ट का आयोजन किया जाएगा. 2023-24 एकाडमिक सेशन से ये नई प्रक्रिया लागू कर दी जाएगी।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close