IAF Agniveer Registration: भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के लिए नई सैन्य अग्निपथ योजना के रंगरूट अग्निवीरों के पहले बैच के लिए रजिस्‍ट्रेशन आज शुक्रवार से शुरू हो रहा है। इसके बाद ऑनलाइन परीक्षा ठीक एक महीने बाद (24 जुलाई) आयोजित की जाएगी। एयर मार्शल एस के झा ने कहा, अग्निवरों के पहले बैच के लिए पंजीकरण प्रक्रिया 24 जून से शुरू होगी। पहले चरण की ऑनलाइन परीक्षा प्रक्रिया 24 जुलाई से शुरू होगी। पहले बैच का नामांकन दिसंबर तक होगा और प्रशिक्षण 30 दिसंबर तक शुरू होगा। मालूम हो कि तीनों सेनाओं की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस 19 जून को हुई थी।

एक बार IAF में नामांकित होने के बाद, Agniveers को वायु सेना अधिनियम 1950 के तहत चार साल के लिए शासित किया जाएगा। IAF द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, देश के सभी हिस्सों से उम्मीदवारों को अग्निवीर के रूप में नामांकित करने का प्रयास किया जाएगा। समकालीन तकनीक का उपयोग करते हुए औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों, NSQF आदि जैसे मान्यता प्राप्त तकनीकी संस्थानों में विशेष रैलियों और कैम्‍पस इंटरव्‍यूज होंगे।

बयान में कहा गया है कि Aginveers IAF में एक अलग रैंक बनाएगा, जो किसी भी मौजूदा रैंक से अलग होगा। 18 वर्ष से कम आयु के अग्निशामकों के लिए, मौजूदा प्रावधानों के अनुसार नामांकन फॉर्म पर माता-पिता या अभिभावकों द्वारा हस्ताक्षर करने की आवश्यकता होगी। चयन प्रक्रिया दो चरणों में आयोजित की जाएगी और चरण 1 को पास करने वाले उम्मीदवार ही चरण 2 के लिए उपस्थित होने के पात्र होंगे।

वायु सेना ने हाल ही में एक विस्तृत अधिसूचना जारी की थी जिसमें पात्रता मानदंड, परीक्षा शुल्क, नियम और शर्तें, आयु सीमा, चिकित्सा मानकों, वेतन, बीमा सहित वित्तीय लाभ और चरण 1 और चरण 2 चयन प्रक्रिया की प्रक्रिया को सूचीबद्ध किया गया है। सेना ने IAF के अलावा योजना के तहत अग्निवीरों की भर्ती के लिए 20 जून को एक अधिसूचना भी जारी की थी जिसमें वेतन पैकेज, सेवा की शर्तों, पात्रता आदि के बारे में जानकारी दी गई।

वाइस एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने 19 जून को कहा था कि नौसेना के लिए, विशिष्ट भर्ती दिशा-निर्देश 25 जून तक जारी किए जाएंगे। 21 नवंबर से पहले नौसैनिक 'अग्निवर' ओडिशा के चिल्का में बेस पर प्रशिक्षण शुरू करेंगे, उन्होंने कहा कि महिला और पुरुष 'अग्निवर' दोनों की भर्ती की जाएगी। महिला 'अग्निवर' को भी युद्धपोतों पर तैनात किया जा सकता है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close