JAC Board Result 2020: झारखंड में मैट्रिक (10वीं कक्षा) और इंटर (12वीं कक्षा) के विद्यार्थियों का रिजल्ट का इंतजार जल्द समाप्त होने वाला है। झारखंड अधिविद्य परिषद (JAC) से संकेत मिले हैं कि बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट जुलाई के पहले सप्ताह में घोषित किए जा सकते हैं। JAC के अध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह ने जानकारी दी है कि रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट jac.jharkhand.gov.in पर जारी की जाएगी।

परिषद की ओर से बताया गया कि जुलाई के पहले सप्ताह में 12वीं का मूल्यांकन कार्य समाप्त हो जाएगा और ऐसा होते ही तुरंत रिजल्ट बनाने का काम शुरू होकर जारी कर दिया जाएगा। बोर्ड ने ये भी बताया कि 10वीं कक्षा (मैट्रिक) के विद्यार्थियों की कॉपी जांचने का काम जून के मध्य में ही पूरा हो चुका है और उसका रिजल्ट भी लगभग तैयार है। बता दें कि इस बार की बोर्ड परीक्षाओं में 6 लाख से ज्यादा विद्यार्थी शामिल हुए हैं।

बता दें कि 10वीं की परीक्षा 11 से 28 फरवरी के बीच आयोजित की गई थी। इस साल 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं दो शिफ्ट में कराई गई। सुबह 9.45 बजे से 1 बजे की पहली शिफ्ट में 10वीं की परीक्षा आयोजित की गई। जबकि दोपहर 2 बजे से शाम 5.15 बजे की दूसरी शिफ्ट में 12वीं की परीक्षा आयोजित की गई थी। परीक्षाओं के लिए कुल 1410 सेंटर बनाए गए और इनमें निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए।

JAC Board Result 2020: इन वेबसाइट पर होगा जारी

JAC द्वारा 10वीं और 12वीं का रिजल्ट वेबसाइट jac.nic.in, jacresults.com, jac.jharkhand.gov.in और jharresults.nic.in पर जारी किया जाएगा।

बच्चों को सलाह दी जाती है कि वे बोर्ड की अधिकृत वेबसाइट पर ही रिजल्ट चेक करें। बीते दिनों बोर्ड के नाम से एक फर्जी वेबसाइट पकड़ में आई थी। जिसे JAC द्वारा ब्लॉक कराया गया। ऐसी फर्जी वेबसाइट से परीक्षार्थियों का डेटा चोरी होने का खतरा है।

JAC Board Result 2020: परीक्षा से जुड़े आंकड़े

इस बार की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के आंकड़े इस प्रकार हैं -

- कुल 1410 सेंटर पर बोर्ड परीक्षा हुई

- 3 लाख 87021 विद्यार्थियों ने 10वीं बोर्ड की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया

- 2 लाख 34363 विद्यार्थियों ने 12वीं बोर्ड की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया

- 10वीं की परीक्षा 940 सेंटरों पर हुई

- 12वीं की परीक्षा 470 सेंटर पर हुई

JAC Board Result 2020: पिछले साल का रिजल्ट

वर्ष 2019 की परीक्षा में छात्रों का रिजल्ट छात्राओं की तुलना में बेहतर रहा था। पिछले साल 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में कुल 1 लाख 67916 विद्यार्थी फर्स्ट क्लास पास हुए, जबकि 1 लाख 25853 विद्यार्थी सेकंड डिवीजन और 16389 विद्यार्थी थर्ड डिवीजन में पास हुए थे।

Posted By: Rahul Vavikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना