JEE Mains Exam 2020: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए आज से संयुक्त प्रवेश परीक्षा-मुख्य (JEE Mains) का आयोजन किया जा रहा है। यह परीक्षा शुरू हो गई है। कोरोना वायरस काल और विपक्षी पार्टियों द्वारा किए जा रहे विरोध के बीच होने जा रही परीक्षा के लिए NTA ने शारीरिक दूरी बनाए रखने से लेकर हर तरह के दिशानिर्देशों को अमल में लाने के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। 6 सितंबर तक होने वाली इस परीक्षा के लिए देश भर के 8.58 लाख परिक्षार्थियों ने पंजीयन कराया है। परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा हॉल में टच फ्री एंट्री रहेगी।

इसके लिए देशभर में परीक्षा केंद्रों की संख्या को 570 से बढ़ाकर 660 किया गया है। कोरोना के खतरे के मद्देनजर सीटिंग व्यवस्था में बदलाव किया गया है और दो परीक्षार्थियों के बीच एक सीट खाली छोड़ी जाएगी। दोनों के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी रहेगी। परीक्षा में शिफ्टों की संख्या को 8 से बढ़ाकर 12 किया गया है और हर शिफ्ट में 85 हजार से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल होंगे। परीक्षा के लिए दो शिफ्ट (सुबह 9 से 12 और दोपहर में 3 से 6 बजे) तय की गई है। परीक्षार्थियों को सुबह डेढ़ घंटे पहले से प्रवेश मिलना शुरू हो गया। यदि किसी छात्र का तापमान 99.4 डिग्री से अधिक हुआ तो उसे आइसोलेशन रूम में ही परीक्षा देना होगी। स्टूडेंट्स के एडमिट कार्ड बार कोड से चेक होंगे।

निशंक ने मुख्यमंत्रियों से की परीक्षार्थियों का सहयोग करने की अपील:

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से परीक्षार्थियों का सहयोग करने की अपील की है। मध्य प्रदेश, ओडिशा और छत्तीसगढ़ की सरकारों ने छात्रों को परिवहन की सुविधा मुहैया कराने का भरोसा दिलाया है।

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कुछ राज्यों, राजनीतिक दलों और राहुल गांधी, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक समेत कई नेताओं ने जेईई मेंस को टालने की अपील की थी, लेकिन सरकार ने परीक्षा कराने का फैसला किया। इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने भी परीक्षा स्थगित करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी थी।

NTA ने परीक्षा केंद्रों की बढ़ाई संख्या:

कोरोना महामारी को देखते हुए एनटीए ने परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ाई है। करीब-करीब सभी छात्रों को उनके शहरों में ही परीक्षा देने की सुविधा दी गई है। परीक्षा केंद्रों में हर कमरे में शारीरिक दूरी के मानकों के मुताबिक बैठने के इंतजाम किए गए हैं। प्रवेश और निकास के लिए अलग-अलग रास्ते बनाए गए हैं। स्वच्छता का भी विशेष ख्याल रखा गया है। हर परीक्षा केंद्र के प्रवेश द्वार पर ही सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। परीक्षा केंद्र में प्रवेश करते समय हर छात्र को तीन लेयर वाला एक मास्क दिया जाएगा।

दो बार टल चुकी है परीक्षा:

JEE Mains परीक्षा का आयोजन पहले दो बार टल चुका है। पहले इस सात से 11 अप्रैल के बीच होना था, लेकिन कोरोना के चलते उसको टाल कर 18-23 जुलाई के बीच कराने का फैसला किया गया। इसके बाद भी हालात में सुधार नहीं होने के बाद एक बार फिर इसे टालना पड़ा था।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020