MP Board 10th Result 2020 : विदिशा/गंजबासौदा। मध्य प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षा मंडल दसवीं की परीक्षा में प्रथम स्थान पाने वाली देवांशी रघुवंशी पुत्री लोकेंद्र रघुवंशी ने शनिवार को नवदुनिया से चर्चा में कहा कि वह बड़े होकर पापा का सपना पूरी करेगी। वह डिप्टी कलेक्टर बनना चाहती है।

देवांशी ने अपनी सफलता का श्रेय शिक्षकों और परिवार वालों को देते हुए कहा कि नियमित अध्ययन से ही मुकाम पाया जा सकता है। प्रतिदिन पांच घंटे पढ़ाई कर उसने यह स्थान पाया है। आज परिजनों को खुश देकर बहुत अच्छा लग रहा है। देवांशी ने कहा कि स्कूल के शिक्षकों की सुनें और मानें तो सफलता दूर नहीं रह सकती।

बैंक सेवा में जाना चाहती हैं बैतूल की शीतल

बैतूल। कक्षा 10 वीं की प्रावीण्य सूची में सातवें स्थान पर आने वाली होनहार छात्रा शीतल पिता सतीश मानकर भविष्य में बैंक सेवा में जाना चाहती हैं। शीतल के पापा एक ऑटो पार्ट्स की दुकान पर काम करते हैं। परिवार में बड़ी बहन है जिसने इसी साल कक्षा 12 वीं की परीक्षा दी है। उससे भी काफी मदद शीतल को मिली।

शीतल के अनुसार उसने सामान्य रूप से ही पढ़ाई की थी, लेकिन पापा हमेशा यह कहकर प्रोत्साहित करते थे कि दीदी जब 10 वीं में 94 फीसद अंक ला सकती है तो तुम इससे ज्यादा भी ला सकती हो। इसी के चलते हमेशा अच्छे अंक लाने की ख्वाहिश रही थी। शीतल स्कूल के अलावा एक घण्टे कोचिंग और फिर रात में 2 घण्टे पढ़ाई करती थी। रोजाना स्कूल के अलावा 3 से 4 घण्टे पढ़ाई शीतल करती थी। शीतल को विज्ञान विषय में उम्मीद से कम अंक मिलने का अफसोस है। शीतल ने 300 में से 297 अंक पाए हैं।

Posted By:

  • Font Size
  • Close