MP Board 10th Result 2020 : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) की दसवीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम शनिवार को घोषित किया जा रहा है। माशिमं की हेल्पलाइन में शुक्रवार को 1951 कॉल आए। हेल्पलाइन में विद्यार्थियों व अभिभावकों ने परिणाम से संबंधित प्रश्न पूछे। इसे लेकर काउंसलर्स ने अभिभावकों व विद्यार्थियों को सलाह दी है कि जैसा भी परिणाम आए, उसे स्वीकार करें। कई बार परिणाम आने के बाद अपेक्षित अंक नहीं मिलने से विद्यार्थी तनाव में आ जाते हैं। अभिभावकों को सलाह है कि वे अपने बच्चों के सामने दूसरे बच्चों के अंक की तुलना करने लगते हैं, जो ठीक नहीं है। ऐसे में अभिभावकों की जिम्मेदारी है कि वे परीक्षार्थियों के साथ सहानुभूति रखें, उनका मनोबल बढ़ाएं। विद्यार्थी भी दसवीं के परिणाम से अपने सपनों को न देखें। एक परीक्षा परिणाम आपके जीवन की दिशा नहीं बदल सकता है। यह कोई अंतिम परीक्षा नही है। बस करियर में आगे बढ़ने की सीढ़ी है।

बच्चों के मन की बात जानें

काउंसलर ने कहा कि अभी घर में रहने से बच्चों के मन में कई बातें चल रही होंगी। ऐसे में अभिभावक बच्चों से बातचीत करें उनकी समस्याओं को जानने का प्रयास करें। उन्हें समझाएं कि परिणाम जीवन से बढ़कर नहीं है। बच्चों को जताएं कि चाहे जैसा भी रिजल्ट आएगा आप उनके साथ हैं।

बच्चे का जो भी परिणाम आए, उसे स्वीकार करें, क्योंकि अभी कोरोना के कारण वे भी डरे हुए हैं। बच्चों के साथ रहें और उनका आत्मविश्वास बढ़ाएं। - डॉ. भावना शर्मा, काउंसलर

आपके जो भी रिजल्ट आए उसे स्वीकार करें और आगे दोगुने मेहनत से लक्ष्य प्राप्ति की ओर जुट जाए। अभिभावक बच्चों पर नाराज न हो और नकारात्मक बात न करें। - मनीषा आनंद, काउंसलर

विद्यार्थियों के लिए टिप्स

- आपने जितना लिखा है, उसके परिणाम को स्वीकार करें।

- अगर उम्मीद के मुताबिक परिणाम नहीं आया तो कोई बात नहीं, यह अंतिम परिणाम नहीं है।

- खुद का आत्म विशलेषण करें और आगे दोगुने मेहनत से जुट जाएं।

- खुद को कभी भी कम न आंके।

- किस विषय में कहां गलती हुई इसका विश्लेषण करें।

- कभी अपने रिजल्ट की तुलना दोस्तों से ना करें।

अभिभावकों के लिए टिप्स

- बच्चों का जो भी रिजल्ट आए, उनपर नाराज न हो।

- बच्चों से कभी भी नकारात्मक बात न करें।

- अपनी उम्मीद उनपर न थोपें।

- अगर अंक कम मिलें हैं तो तुरंत रिएक्ट न करें, बल्कि दो-तीन दिन बाद समझाएं।

- दोस्तों या भाई-बहन से उनके मार्क्स की तुलना न करें।

- उनकी गतिविधि पर नजर रखें और हर समय साथ रहें।

- घर के माहौल को सकारात्मक बनाए रखें।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan