Teacher Recruitment 2021। बिहार में जल्द ही 1.5 लाख से ज्यादा शिक्षकों की नियुक्ति होने जा रही है। बिहार सरकार पंचायत चुनाव के बाद प्राथमिक और माध्यमिक सरकारी स्कूलों में 1.25 लाख शिक्षकों की भर्ती के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी करेगी। गुरुवार को इस बारे में विधानसभा को इसकी जानकारी दी गई। गौरतलब है कि 11 चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव के लिए आखिरी मतदान 12 दिसंबर को होगा। उसके बाद ही भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने दी जानकारी

शिक्षकों की भर्ती के बारे में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा में कहा है कि राज्य में पंचायत चुनाव संपन्न होने के बाद शिक्षा विभाग सवा लाख स्कूली शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया को जल्द पूरा करेगा। शिक्षा विभाग द्वारा पहले ही लगभग 40,000 शिक्षकों की नियुक्ति की जा चुकी है।

हर पंचायत में सीनियर सेकेंडरी स्कूल खोलने का लक्ष्य

शिक्षा मंत्री ने कहा कि राज्य की हर पंचायत में एक सीनियर सेकेंडरी स्कूल खोलना सरकार का लक्ष्य है। चौधरी ने बताया कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी नहीं होगी। इससे पहले चर्चा में शामिल राजद विधायक ललित कुमार यादव ने कहा कि कि नीति आयोग की हालिया रिपोर्ट में कहा गया है कि नीतीश सरकार की नाकामी तथ्यों और सबूतों के साथ सामने आ गई है। रिपोर्ट ने बिहार को अन्य राज्यों की तुलना में शिक्षा, स्वास्थ्य और कल्याण के मामले में सबसे नीचे रखा है।

विपक्ष विधायकों ने नीतीश सरकार को घेरा

राजद विधायक ललित कुमार यादव ने नीतीश सरकार को घेरते हुए कहा कि शिक्षा विभाग को अनुदान की मांग को मंजूरी देने की जरूरत नहीं है। मंत्री को नीति आयोग के निष्कर्षों पर अपना जवाब देना चाहिए। जबकि राजद के एक अन्य विधायक भूदेव चौधरी ने आश्चर्य जताया कि नीतीश सरकार नीति आयोग की रिपोर्ट पर खामोश है।

Posted By: Sandeep Chourey