University Exams: कोरोना वायरस और लॉकडाउन का असर उच्च शिक्षा पर भी पड़ा है। कई राज्यों में विश्वविद्यालय की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। इस बीच, केंद्रीच मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को विश्वविद्यालयों को निर्देश दिया कि जो छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो पा रहे हैं, उन्हें बाद में एक और मौका दिया जाए। निशंक ने ट्विटर पर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि ये परीक्षाएं ऑफलाइन पद्धति (पेन एवं पेपर)/ऑनलाइन/मिश्रित (ऑनलाइन + ऑफलाइन) किसी भी माध्यम से कराई जा सकती हैं। बता दें, UGC ने हाल ही में देशभर में ग्रेजुएट और पोस्‍ट ग्रेजुएट फाइनल ईयर की एग्जाम के लिए गाइडलाइन जारी की है।

एक अन्य ट्वीट में निशंक ने लिखा, यह उनकी क्षमता, प्रदर्शन और विश्वसनीयता का प्रतिबिंब है जो वैश्विक स्वीकार्यता के लिए आवश्यक है। बड़ी संख्या में विद्यार्थियों के शैक्षणिक हितों को देखते हुए UGC ने टर्मिनल सेमेस्टर की सभी परीक्षाएं 30 सितंबर, 2020 तक करने का दिशा निर्देश जारी किया है।

सरकार के फैसले पर सोशल मीडिया पर जबरदस्त रिएक्शन्स

कोरोना वायरस के कारण विश्व विद्यालयों की परीक्षा सरकार के लिए परेशानी का कारण बन गई है। बड़ी संख्या में छात्र और टीचर्स, सरकार से सवाल पूछ रहे हैं। इस बीच, निशंक के ताजा बयान के बाद भी प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं। एक छात्र ने लिखा, ऑफलाइन परीक्षा के दौरान किसी भी छात्र को कोई भी तकलीफ हुई तो जिम्मेदारी सरकार लेंगी? अगर ये नही कर सकते तो सभी परीक्षाओं को स्थगित करके सबको mass promotion दे दीजिए।

यह भी पढ़ें: DU Exams 2020: दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, अपनी सभी यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं रद्द की

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan