UPSC Civil Service Prelims 2020: कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति के बीच संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए राहत भरी खबर है। UPSC ने 4 अक्टूबर को होने वाली सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 (UPSC Civil Service Prelims Exams 2020) के लिए अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्र बदलने की अनुमति दे दी है। UPSC के इस फैसले से उन अभ्यर्थियों को लाभ होगा जो कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन के कारण अपने घर या दूसरे जिलों में चले गए। ऐसे में अब ये अभ्यर्थी परीक्षा के दौरान जहां रहेंगे वहां परीक्षा दे सकेंगे।

UPSC ने बुधवार को कहा कि भारतीय वन सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2020 सहित सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2020 के लिए अभ्यर्थियों के आग्रह को देखते हुए आयोग ने परीक्षा केंद्र बदलने की अनुमति देने का फैसला किया है। अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र का संशोधित विकल्प चुन सकते हैं। इसके अलावा सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा 2020 और भारतीय वन सेवा (मुख्य) परीक्षा 2020 के लिए केंद्र बदलने का भी विकल्प उपलब्ध कराया जा रहा है।

आयोग की ओर से जारी बयान में कहा गया कि अभ्यर्थियों के लिए केंद्र बदलने की विंडो दो चरणों में खोली जाएगी और इसके लिए अभ्यर्थियों को आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जाना होगा। आयोग की वेबसाइट पर दो बार 7 से 13 जुलाई तक और फिर 20 से 24 जुलाई तक विंडो ओपन होगी और तब अभ्यर्थी ये परिवर्तन कर सकेंगे। आयोग के मुताबिक 7 से 13 जुलाई शाम 6 बजे तक और 20 से 24 जुलाई शाम 6 बजे तक दो चरणों में अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र बदलने का अनुरोध कर सकते हैं।

आयोग ने स्पष्ट किया कि परीक्षा केंद्र में परिवर्तन के संबंध में किया गया आग्रह केंद्रों की तरफ से की गई अतिरिक्त अभ्यर्थियों के समायोजन की व्यवस्था पर निर्भर करेगा। इसमें पहले आवेदन, पहले आवंटन का नियम लागू होगा। आयोग की सभी परीक्षाओं में यह नियम लागू होता है और सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2020 तथा वन सेवा परीक्षा 2020 के नोटिस में भी इसका उल्लेख किया जा चुका है।

बता दें कि पहले सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा 31 मई को होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस की महामारी के कारण इसे स्थगित करते हुए इसकी नई तारीख 4 अक्टूबर तय करनी पड़ी।

Posted By: Rahul Vavikar

  • Font Size
  • Close