किसी भी तरीके को आदत बनाने के लिए जरूरी है कि उसे बार-बार दोहराया जाए। जब आप एक ही काम कुछ दिनों प्रयास से करते हैं तो फिर आपको उसकी आदत हो जाती है और वह आपके लिए सहज भी हो जाता है। 'लैडर्स डॉट कॉम' पर आदत अपनाने में कितना समय लगता है इसे लेकर एक रोचक आलेख प्रकाशित हुआ है। यह बताता है कि किसी भी शुरुआत के लिए जरूर खुद को प्रेरित करने की जरूरत होती है।

एक अध्ययन में शामिल कई लोगों की राय के आधार पर यह निष्कर्ष निकला कि नई आदत को अपनाने के लिए किसी भी काम को 66 मर्तबा दोहराना पड़ता है। अगर कुछ लोग 7 दिन में ही नई आदत अपनाना चाहते हैं तो इस हिसाब से उन्हें हर दिन करीब 10 बार उस काम का अभ्यास करना होगा। बात इतनी सहज है कि एक सप्ताह में किसी आदत को अपनाने के लिए प्रतिदिन उसका बहुत बार अभ्यास अनिवार्य है। बड़े कामों को आदत में ढालने में ज्यादा समय लगता है लेकिन छोटी-छोटी चीजों को अपनाना सरल होता है। जैसे आपसे कहा जाए कि आपको रोज एक किताब पढ़ने या 500 शब्दों का निबंध लिखने की आदत अपनानी है तो यह 7 दिनों में ही अपनाना आपके लिए मुश्किल होगा। लेकिन इसके बजाय आपसे कहा जाता है कि आपको रात्रि विश्राम से पहले किसी भी किताब से कुछ पैराग्राफ पढ़ने की आदत अपनाना चाहिए तो यह काम आपके लिए ज्यादा आसान हो सकता है। आप रोज किताब पढ़ेंगे तो कुछ ही दिनों में आप उसके अभ्यस्त हो जाएंगे। धीरे-धीरे फिर यह समय बढ़ता भी जाएगा।

क्या आप बातचीत में झिझकते हैं?

कुछ लोग दूसरों से मेल-मुलाकात या बातचीत से बचने की कोशिश में रहते हैं। यह भी एक दुर्गुण है क्योंकि चीजों को टालने की प्रवृत्ति इसी से बढ़ती है। ऐसे अंतर्मुखी लोगों को यह अभ्यास करना चाहिए कि वे पूरा दिन जितने भी लोगों से मिलते हैं उनसे आंख मिलाकर बात करने का अभ्यास करना चाहिए। जब कोई व्यक्ति आंख मिलाकर बात करता है तो इससे उसका आत्मविश्वास भी बढ़ता है और संवाद भी प्रभावी होता है। कुछ दिनों यह करने के बाद अपनेअंतर्मुखी स्वभाव को बदलने में कामयाबी मिल जाती है।

जल्दी ही बन जाती है आदत

कुछ लोग वजन घटाने के लिए प्रयास करने के बारे में सोचते रहते हैं लेकिन शुरुआत नहीं करते हैं। ऐसे में अगर वे रोज रास्ते में पड़ने वाले सीढ़ियों से चढ़ना-उतरना ही करते हैं तो उन्हें इसका फायदा मिल सकता है। जिन लोगों का डेस्क जॉब है उन्हें तो इस बात को लेकर अधिक सावधान रहना चाहिए। निष्क्रिय जीवनशैली वाली आदतों को बदलने के लिए सजगता से प्रयास किए जाएं तो कुछ ही दिनों में अच्छी आदतें अपनाई जा सकती हैं। कुछ दिनों खुद को याद दिलाकर आप एक अच्छी आदत को अपना सकते हैं।

कई हैं फायदे नई आदत के

जब आप विचारपूर्वक कोई नई आदत अपनाते हैं तो वह ज्यादातर सकारात्मक होती है। कुछ लोग शराब या किसी तरह का नशा छोड़ने के लिए प्रयास करते हैं और दृढ़तापूर्वक उस पर बने रहते हैं। यह शुरुआती प्रयास ही बड़े लक्ष्य को संभव बनाते हैं। बार-बार मन को नियंत्रित करना और किसी चीज से दूरी बनाने के लिए खुद को प्रेरित करना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है।