Arhar Dal For Diabetes: डायबिटीज के मरीजों को खानपान का ध्यान रखना जरूरी होता है। डाइट में जरा सी लापरवाही इनके लिए घातक साबित हो सकती है। शुगर एक लाइलाज बीमारी है। हालांकि सही डाइट प्लान और खाने के तरीके में बदलाव करके इसे नियंत्रण किया जा सकता है। यदि आप भी ब्लड शुगर के मरीज है, जो आपको अपने भोजन में अरहर की दाल शामिल करना चाहिए। तुअर दाल डायबिटीज रोगियों के लिए लाभदायक है। आइए जानते हैं कैसे अरहर की दाल शुगर कंट्रोल करने में हेल्प करती है।

अरहर दाल के फायदे

डॉक्टर्स के मुताबिक डायबिटीज के मरीजों को प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा और मिनरल युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए। हालांकि इनकी मात्रा मरीजों की आयु, वजन और शुगर लेवल के हिसाब से लेनी चाहिए। अरहर दाल को प्रोटीन का राजा कहा जाता है। इसके अलावा दाल में आयरन, फोसेल, जिंक और मैग्नीशियम भी होते हैं, जो शुगर कंट्रोल करने में मददगार हैं। तुअर दाल खाने से पाचन तंत्र भी मजबूत रहता है।

डाइट में शामिल करें अरहर दाल

डायबिटीज के मरीजों को अपने खानपान में दाल को शामिल करना चाहिए। प्रोटीन के अलावा तुअर दाल में फाइबर, विटामिन और मिनरल्स की काफी मात्रा होती है। इसके अलावा ग्लाइसिमिक इंडेक्स की मात्रा कम होती है। ये सभी चीजें शुगर कंट्रोल करने में मददगार साबित होती है। ऐसे में डायबिटीज के रोगियों को अपने आहार में अरहर की दाल को शामिल करना चाहिए। दाल का सुबह सेवन करना अधिक लाभदायक है। इससे वजन भी कंट्रोल में रहता है।

डिस्क्लेमर

यह लेख सामान्य जानकारी के आधार पर लिखा गया है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close