Cancer Symptoms। शरीर में यदि कोई गांठ दर्द दे रही है और तेजी से बढ़ रही है तो यह कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। आमतौर पर ऐसी गांठ के बारे में आखिरी स्टेज में पता चलता है। हालांकि शरीर में कैंसर कई प्रकार का हो सकता है जैसे ब्लड कैंसर, कोलन कैंसर या ब्रेन कैंसर। कैंसर कोशिकाएं अनियंत्रित रूप से शरीर पर अपना नियंत्रण करने लगती है और शरीर की इम्युनिटी को कमजोर करती है। कई बार कैंसर की वजह से मांसपेशियों में ऐंठन और मरोड़ की समस्या भी देखी जाती है। कई बार यह भी देखा जाता है कि कैंसर कोशिकाएं शुरुआत में जब शरीर में फैल रही होती है तो कुछ शुरुआती संकेत देते है, जिन्हें हम सामान्य मानकर अनदेखा कर देते हैं।

गौरतलब है कि कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो शरीर के नर्वस सिस्टम को प्रभावित करता है, यही कारण है कि शुरुआती स्तर पर जब हमें मांसपेशियां फड़कती हुई महसूस होती है तो हम इसे सामान्य मानकर अनदेखा कर देते हैं। ऐसे में यदि आपको भी बार बार पैर या आंखें फड़फड़ाने के संकेत दिखते हैं तो कैंसर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं, जिसकी तत्काल जांच करानी चाहिए। कैंसर कोशिकाएं या ट्यूमर मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी पर दबाव डालते हैं। ऐसे में दिमाग की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है।

अंगों का फड़फड़ाना मेनिनजियोमा के लक्षण

मेनिनजियोमा में सबसे पहले मिर्गी के समान दौरे आते हैं, जिसमें मांसपेशियां बहुत तेजी से हिलने लगती हैं और झटके जैसा महसूस होने लगता है। जब एक कैंसरयुक्त ट्यूमर मस्तिष्क के तीन भागों में फैल जाता है तो ज्यादा दिक्कत बढ़ती है। मेनिनजियोमा के कोई विशेष लक्षण नहीं होते हैं, इसलिए कई बार इस कैंसर के लक्षणों को उम्र बढ़ने के संकेत के रूप में नजरअंदाज कर दिया जाता है, लेकिन ऐसा न करें। इसकी रोकथाम के लिए सही समय पर सही इलाज किया जाना चाहिए।

Posted By:

  • Font Size
  • Close