Daily Diet For High Cholesterol । अनियमित जीवनशैली के कारण कई लोगों में आजकल हाई कोलेस्ट्रॉल एक गंभीर समस्या बन गया है। कोलेस्ट्रॉल से हृदय रोग, दिल का दौरा और स्ट्रोक का खतरा बना रहता है। दरअसल High Cholesterol की समस्या मुख्य रूप से खानपान की गलत आदतों के कारण पैदा होती है। इस दिनों चीनी, मैदा युक्त बैकरी प्रोडक्ट, कोल्ड ड्रिंक और तेल से बनी चीजें खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का खतरा सबसे ज्यादा होता है। इस सभी चीजों के सेवन से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) का स्तर बढ़ने से रक्त वाहिकाओं या धमनियों में रुकावट आ सकती है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

ऐसे कम करें High Cholesterol

डॉक्टरों का कहना है कि जिन लोगों को High Cholesterol की समस्या रहती है, उन्हें प्लांट बेस्ड डाइट ज्यादा लेना चाहिए। पौधों के खाद्य पदार्थों में कोई कोलेस्ट्रॉल और संतृप्त वसा नहीं होता है, जबकि घुलनशील फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है। फल, सब्जियां, साबुत अनाज जैसे पौधों से प्राप्त खाद्य पदार्थ खराब कोलेस्ट्रॉल को 5-10 फीसदी कम किया जा सकता है।

अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजें

- High Cholesterol कम करने के लिए अपनी रोज की डाइट में फलों का सेवन ज्यादा करें। सेब, जामुन और खट्टे फल जैसे संतरे और नींबू में एक प्रकार का फाइबर होता है जिसे पेक्टिन कहा जाता है, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।

- साबुत अनाज का सेवन करने से भी High Cholesterol कम होता है। रक्त प्रवाह में कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करके LDL के स्तर को कम करने में साबुत अनाज अहम भूमिका निभाते हैं। ब्राउन राइस, मूसली और क्विनोआ जैसी खाद्य सामग्री का नियमित सेवन करना भी फायदेमंद होता है।

- High Cholesterol को दूर करने के लिए हरी सब्जियों का सेवन काफी फायदेमंद होता है। सब्जियों में वे सभी पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के साथ-साथ अन्य खराब तत्वों को भी दूर करने का काम करते हैं। बैंगन और भिंडी घुलनशील फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं।

- High Cholesterol से पीड़ित लोगों को रोज 25 ग्राम सोया प्रोटीन का सेवन जरूर करना चाहिए। कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में सोना प्रोटीन अहम भूमिका निभाता है। इसके अलावा सोयाबीन को सब्जी के रूप मे भी ले सकते हैं।

- ओट्स में बीटा-ग्लूकेन्स पाए जाते हैं, जो एक खास फाइबर होता है, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में काफी कारगर होता है। नाश्ते में ओट्स का सेवन कर सकते हैं। अपनी डाइट में नमक या शक्कर का सेवन कम कर देना चाहिए। इसके अलावा नियमित रूप से दाल खाने से हृदय स्वास्थ्य में सुधार होता है। दालों में विटामिन, फाइबर व प्रोटीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close