Health Tips for Kids Cold & cough: सर्दी खांसी ऐसी परेशानी है जो मौसम बदलने के साथ होती ही है, और ये 4 से 5 दिन तक बनी रहती है। हालांकि ये हर आयु वर्ग के लोगों को होता है, लेकिन जब सर्दी जुकाम की चपेट में बच्चे आ जाते हैं तो टेंशन होने लगती है। दरअसल, सर्दियों के मौसम में बच्चों को सर्दी-खांसी होने की संभावना काफी ज्यादा होती है। ऐसे में उन्हें हर बार कप सिरप देना नुकसानदेह हो सकता है। बच्चों की सर्दी-खांसी का इलाज अगर प्राकृतिक तरीके से हो, तो उनकी सेहत पर कोई गलत असर पड़ेगा और ना ही किसी दवा का साइड इफेक्ट होगा। इसलिए आज हम आपको बताते हैं उनकी सर्दी-खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे। दरअसल आपके किचन में मौजूद काली मिर्च इसकी सबसे अच्छी दवा है, बशर्ते आप इसका सही तरीके से इस्तेमाल करें।

जानिए काली मिर्च की खासियत

काली मिर्च को आयुर्वेद में कफ से जुड़ी समस्याओं में काफी असरदार माना जाता है। सर्दी के मौसम में इस्तेमाल किये जाने वाले काढ़े में इसका अनिवार्यतः इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही इसमें कई तरह के पोषक तत्व भी होते हैं। इसमें विटामिन ए, विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन सी और विटामिन बी6, थायमीन, नियासिन, सोडियम, पोटैशियम भी पाए जाते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल?

  1. सर्दियों में बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity power) कम हो जाती है, इसी वजह से उनको बुखार, सर्दी खांसी बहुत जल्दी हो जाती है। ऐसे में अपने बच्चों को शहद के साथ काली मिर्च का पाउडर मिलाकर दें। दो से तीन बार में ही उन्हें राहत मिलने लगेगी।
  2. रात को सोते वक्त बच्चे को एक गिलास दूध में आधा चम्मच काली मिर्च और घी मिलाकर दें। इसे पीने से जमा हुआ कफ बाहर निकल आएगा और सर्दी-खांसी भी ठीक होने लगेगी।
  3. अगर बच्चा सीधे तौर पर काली मिर्च नहीं खा रहा हो, उसे ऑमलेट (OMLET) में काली मिर्च छिड़ककर दें। इससे उनका इम्यून सिस्टम मजबूत होगा और नाक बहना भी रुकेगा।

ध्यान रहे, कि बच्चों की उम्र के मुताबिक ही काली मिर्च का मात्रा रखें। साथ ही इसका ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल ना करें। वहीं गंभीर स्थिति में फौरन डॉक्टर से मिलें। यूं तो यह नुस्खा ना सिर्फ बच्चों के लिए बल्कि बड़ों के लिए भी बहुत असरदार है, लेकिन इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close