Health Tips: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। गलत दिनचर्या के कारण बच्चे से लेकर युवा व बुजुर्ग कमर दर्द से परेशान हैं। योग विशेषज्ञों का कहना है कि भुजंगासन अभ्यास कर कमर दर्द की समस्या से मुक्त हो सकते हैं। यह आसन प्रतिदन करना होगा। इससे शरीर को आराम मिलेगा। साथ ही शरीर के अंक मजबूत होगा।

कमर दर्द से राहत

योग विशेषज्ञों का कहना है कि कमर दर्द से राहत दिलाने के लिए भुजंगासन बेहद कारगर है। इस आसन में शरीर की मुद्रा फन उठाए सांप की तरह की होती है। भुजंगासन करने के लिए जमीन पर पेट के बल लेट जाएं। अब पैरों को आपस में मिलाएं और हथेलियों को सीने के पास कंधों की सीध में रखें। अपने माथे को जमीन पर रखकर शरीर को सहज रखें। फिर गहरी सांस लेते हुए शरीर के आगे के हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं। अपने दोनों हाथों को सीधा खड़ा रखें।

करीब 15-20 सेकेंड के लिए इसी मुद्रा में रहें। फिर सांस छोड़ते हुए वापस सामान्य मुद्रा में लौट आएं। शलभासन भी पेट के बल लेट कर किया जाएगा। इसमें मैट पर पेट के बल लेटकर दोनों हथेलियों को जांघों के नीचे रख दें। फिर दोनों पैर की एड़ियों को आपस में जोड़कर पैर के पंजे को सीधे रखें। अब धीर--धीरे अपने पैरों को ऊपर उठाने की कोशिश करें।

गहरी सांस लें

दोनों पैरों को ऊपर की ओर ले जाते समय गहरी सांस लें। इसी अवस्था में कुछ सेकेंड रहे और बाद में पैरों को सांस छोड़ते हुए नीचे की ओर लाएं। उष्ट्रासन करने के लिए सबसे पहले आप घुटनों के बल बैठ जाएं। अब दोनों घुटनों की चौड़ाई कंधों के बराबर रखें और तलवे पूरे फैले हुए आसमान की तरफ रखें। रीढ़ की हड्डी को पीछे की तरफ झुकाते हुए दोनों हाथों से एड़ियों को छूने का प्रयास करें। ध्यान दें कि इस पोज में जाते समय गर्दन पर अधिक दबाव न पड़े और कमर से लेकर घुटनों तक का हिस्सा सीधा रहे। इस अवस्था में रहकर गहरी सांस लें। कुछ देर बाद अपनी सामान्य अवस्था में लौट आए।

Posted By: Manoj Kumar Tiwari

  • Font Size
  • Close