Health Tips: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जब मौसम बार-बार बदलता है तो ऐसे में बाहर के मौसम के अनुरूप शरीर खुद को स्वस्थ रखे, इसके लिए उसे अधिक प्रयास करना पड़ता है। ऐसे में शरीर को और भी अधिक पोषक तत्वों की जरूरत होती है तथा ऊर्जा की भी अपेक्षाकृत ज्यादा जरूरत होती है।

आहार व पोषण विशेषज्ञ डा. मुनीरा हुसैन के अनुसार, सर्दी के मौसम में शरीर को गर्म रहने के लिए ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता होती है। यही नहीं, पाचन के लिए भी अधिक पोषक तत्व की जरूरत होती है। सर्दी के दिनों में मीठा व गरिष्ठ भोजन ज्यादा खाने में आता है और सर्दी के चलते व्यायाम कम होता है। इस प्रक्रिया में शरीर कैलोरी तो ज्यादा लेता है, लेकिन उसे बर्न कम ही कर पाता है। जिन्हें मधुमेह, हृदय रोग है उनकी समस्या और भी बढ़ जाती है। इसलिए इस मौसम में मधुमेह और हृदयाघात के मामले ज्यादा आते हैं।

इस मौसम में खुद का खास ध्यान रखें

यह वक्त 30 वर्ष से 60 वर्ष तक की उम्र के लोगों के लिए बहुत संभलने का होता है, क्योंकि 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग सामान्यतौर पर अपना ध्यान खुद ही बखूबी रख लेते हैं और बच्चों का ध्यान अभिभावक रखते हैं। युवाओं के रोगी होने की आशंका कम होती है। ऐसे में जरूरी है कि 30 से 60 वर्ष की उम्र के लोग ज्यादा सचेत रहें, क्योंकि यह अपने आहार-विहार का ध्यान नहीं रखते।

हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं

इस मौसम में हरी पत्तेदार सब्जी बहुतायत से आती हैं और उनका सेवन अधिक मात्रा में प्रतिदिन करना चाहिए। हरी पत्तेदार सब्जी में ऊर्जा ज्यादा नहीं, पर पोषण बहुत होता है। इसका सेवन हायपर टेंशन, हृदयरोगी और मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत लाभकारी होता है। इसका सेवन कितनी भी मात्रा में किया जा सकता है। इसमें फायबर भी बहुत होता है। इसके अलावा यह सब्जियां फाइटोकेमिकल होती हैं, जिससे विघटनकारी बीमारी में लाभ होता है। हरी सब्जी पाचनतंत्र के लिए भी लाभकारी होती है और आंखों के लिए भी बेहतर होती है।

Posted By: Hemraj Yadav

  • Font Size
  • Close