Symptoms Of Weak Heart: बढ़ती उम्र के साथ दिल के कमजोर होने की समस्या होना आम बात हो जाती है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है वैसे-वैसे शरीर में कई सारे पोषक तत्वों की कमी होने लग जाती है। ऐसी स्थिति में दिल पर भी असर पड़ता है। अगर आपका दिल कमजोर होने लगे तो ये आपकी सेहत के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है। खराब लाइफस्टाइल और गलत खाने पीने की आदतों के कारण 30 से 40 की उम्र में ही दिल कमजोर होना शुरू हो जाता है। लेकिन जब आपका दिल कमजोर होने लगता है तो शरीर में कुछ लक्षण दिखाई देने लगते हैं। आइए आज हम आपको बताते हैं कि दिल के कमजोर होने पर शरीर में कौन से संकेत दिखाई देने लगते हैं।

बेचैनी महसूस होना

अगर आपको भी लगातार बेचैनी महसूस होती है तो ये कमजोर दिल के लक्षण हो सकते हैं। बता दें कि दिल कई धमनियों से जुड़ा हुआ होता है। ऐसे में अगर किसी भी धमनी में ब्लॉकेज हो जाता है तो सीने में दबाव महसूस होने लगता है। ऐसी स्थिति में काफी बेचैनी महसूस होती है। इन लक्षणों को देखते हुए आपको डॉक्टर की मदद जरूर लेनी चाहिए।

what is anxiety and how to deal with it

सीने में जलन होना

अगर आप भी कई दिनों से उल्टी की समस्या से परेशान हैं या आपको उल्टी आने का मन होता है। तो ये दिल के कमजोर होने के लक्षण में से एक हो सकते हैं। साथ ही यदि आपको पेट में दर्द और सीने में जलन भी हो रही है जो समझ जाइए कि आपका दिल कमजोर होने लगा है। ऐसे में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

हार्ट्बर्न (सीने में जलन) से छुटकारा कैसे पाएँ

कफ जमना

दिल के कमजोर होने की स्थिति में खांसी और जुकाम के साथ-साथ लगातार कफ भी जमने लगता है। इसके अलावा यदि आपको थूक में सफेद या गुलाबी रंग का बलगम दिखाई देता है तो ये हार्ट फेल होने के लक्षण हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

ड्राई कफ के दौरान इन घरेलू उपचार को करें ट्राई, दिक्कत होगी दूर! | TV9  Bharatvarsh

सांस लेने में दिक्कत होना

अगर आपको सांस लेने में लगातार समस्या हो रही है तो ये भी आपके दिल के कमजोर होने का एक लक्षण होता है। वहीं अगर आपको कम सांस आ रही है तो ये भी हार्ट फेल होने का एक बड़ा लक्षण है। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

अचानक बढ़ जाती है सांस फूलने की परेशानी, तो फॉलो करें कुछ खास घरेलू उपाय |  Jansatta

Posted By:

  • Font Size
  • Close