Health Tips: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सर्दियों के मौसम में खान-पान में विशेष ध्यान रखना चाहिए। यदि हम खानपान और जीवनशैली में बदलाव करें तो स्वस्थ रह सकते हैं। आहार तथा पोषण विशेषज्ञ डा प्रीति शुक्ला के अनुसार इन दिनों आहार विहार में कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। सामान्यता ऐसी धारणा है की सर्दियों में जो भी हम खाएंगे वापस जाएगा इसलिए मीठा, गुड़ एवं मिठाइयां लोग बहुत ज्यादा मात्रा में सेवन करने लग जाते हैं जिसके कारण वजन बढ़ जाता है।

शुगर के मरीजों में शुगर भी बढ़ी हुई पाई जाती है। साधारण भारतीय बैलेंस भोजन शैली को अपनाएं गुण एवं मिठाइयों की अधिकता करने से बचें। नियमित व्यायाम करें एवं मौसमी फल एवं सब्जियों का प्रयोग अपने खाने में करें। सीड्स और नट्स यह सभी ओमेगा 3 फैटी एसिड्स होते हैं इनको खाने से फायदा पहुंचता है इनसे प्रोटीन भी प्रचुर मात्रा में मिलता है जिससे कि शरीर का तापमान बनाए रखते में सहजता महसूस होती है इसलिए नट्स और सीड्स का प्रयोग करें। ज्यादा तले गले भोजन एवं स्ट्रीट फूड को खाने से बचें इस बदलते मौसम में बीमारियां ज्यादा पैर पसार लेती है वायरल इन्फेक्शन आम हो चले हैं।

कोविड-19 बाद से ही लोगों की इम्युनिटी कम हो गई है इसके कारण बार-बार इंफेक्शन हो जाता है अतः अपने 13 स्वच्छ भोजन घर का बना हुआ ऐसा ही प्रयोग करें। वयस्कों की तुलना में बच्चों की न्यूट्रिएंट्स की आवश्यकता अधिक होती है क्योंकि वह बढ़ रहे होते हैं। अतः बच्चों को यदि वह नट्स नहीं खाते हैं तो उनको ड्राई फ्रूट्स के नट्स के लड्डू बना कर दिए जा सकते हैं। वयस्कों को एवं वृद्धजनों को अत्यधिक मीठा खाने से परहेज करना चाहिए क्योंकि इससे इन्फ्लेमेशन बढ़ता है वजन बढ़ता है एवं शारीरिक समस्याएं बढ़ जाती हैं।

Posted By: Sameer Deshpande

  • Font Size
  • Close