Tea For Diabetes: लहसुन का उपयोग सदियों से इसके औषधीय गुणों के लिए किया जाता रहा है। अधिकांश भारतीयों के व्यंजन में लहसुन एक महत्वपूर्ण घटक है। बहुत से लोग खाली पेट गर्म पानी के साथ लहसुन का सेवन करते हैं। अगर आप इस तरह से लहसुन का सेवन करना पसंद नहीं करते हैं, तो आप इसकी चाय बना सकते हैं। जिसे शहद, नींबू और पानी का उपयोग करके बनाया जा सकता है।

जिन लोगो को हाई ब्ल्ड प्रेशर या हाई ब्लड शुगर के कारण नियमित चाय नहीं पीने दी जाती है। उनके लिए लहसुन की चाय सबसे अच्छी है। लहसुन की चाय में कैफीन नहीं होता है। गार्लिक में जीवाणुरोधी और एंटीवायरल गुण होते हैं। इसके स्वास्थ्य लाभ और स्वाद को बढ़ाने के लिए लहसुन की चाय में अदरक और दालचीनी भी मिला सकते हैं। इतना ही नहीं लहसुन इम्युनिटी को मजबूत करता है। वह ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है।

मधुमेह रागियों के लिए लहसुन की चाय कैसे अच्छी है?

1. लहसुन की चाय अमीनो एसिड होमोसिस्टीन को कम करती है, जो मधुमेह मरीजों के लिए एक बड़ा जोखिम कारक है।

2. यह एक शक्तिशाली एंटीबायोटिक पेय है, जो स्वास्थ्य और प्रतिरक्षा में सुधार करता है।

3. लहसुन शरीर की सूजन को कम करने में मददगार है।

4. टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों में लहसुन के सेवन से रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है।

5. यह कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। मधुमेह से जुड़े अन्य स्वास्थ्य जोखिमों को कम करता है।

6. लहसुन में विटामिन सी होता है, जो हमारे अंगों को काम करने और स्वस्थ रखता है।

लहसुन की चाय बनाने की विधि

एक पैन लें और उसमें एक कप पानी उबालें। थोड़ा सा पिसा हुआ अदरक, 1 छोटा चम्मस पिसा हुआ लहसुन और थोड़ी काली मिर्च डालें। चाय को 5 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़े दें। पैन को आंच से हटा लें। अब छान लें और गर्मा-गरम पीएं। इसके स्वाद और पोषण मूल्य को बढ़ाने के लिए इसमें दालचीनी, नींबू और शहद भी मिला सकते हैं।

डिस्क्लेमर

यह लेख सामान्य जानकारी के आधार पर लिखा गया है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close