Rs 1000 crore heroin seized: मुंबई में ड्रग्स की अब तक की सबसे बड़ी खेप पकड़ी गई है। नारकोटिक्स विभाग ने 191 किलो हेरोइन बरामद की, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 1000 करोड़ रुपए है। ड्रग्स की यह खेप अफगानिस्तान से भारत पहुंचाई गई थी।

डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इटेलीजेंस (DRI) और कस्टम डिपार्टमेंट में संयुक्त ऑपरेशन में बंदरगाह से हेरोइन की यह खेप शनिवार रात को बरामद की। इस मामले में अभी तक दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तस्करों ने ड्रग्स को प्लास्टिक पाइप में छुपाकर रखा था। इन पाइपों को इस तरह कलर किया गया था कि ये बांस के टुकड़े के समान दिख रहे थे। तस्करों ने इसे आयुर्वेदिक दवा बताया। कस्टम हाउस के दो एजेंट्स को गिरफ्तार किया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार एक इम्पोर्टर और एक फाइनेंसर समेत कुल चार लोगों को दिल्ली में पकड़ा गया है और उन्हें भी दिल्ली लाया जा सकता है।

ये ड्रग्स कई कंटेनर में छिपाकर भारत लाए गए थे। इस बारे में कंटेनर के मालिक से पूछताछ की जा रही है। इस सिलसिले में एमबी शिपिंग एंड लॉजिस्टिक्स सॉल्युशंक के मीनानाथ बोडाके और मुंब्रा के कोंडिभाऊ पांडुरंग गुंजाल को स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

31 जनवरी को पंजाब पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स ने 194 किलो हेरोइन बरामद की थी। अमृतसर जिसे में यह ड्रग्स बरामद कर 6 लोगों को पकड़ा गया था जिसमें एक अफगानी नागरिक भी शामिल था। साल 2001 के बाद से अफगानिस्तान ड्रग्स के मामले में सबसे बड़े केंद्र के रूप में उभरा है।

Posted By: Kiran K Waikar

  • Font Size
  • Close