मुंबई। महाराष्ट्र के पालघर जिले के एक स्थानीय कोर्ट ने किकी चैलेंज को करने वाले तीन यू-ट्यूबर्स को अजीबोगरीब सजा दी है। हालांकि, यह सजा देने के मकसद है कि युवाओं में सुधार हो और समाज को अच्छी दिशा व संदेश मिले। दरअसल, तीनों युवकों ने लगातार तीन दिन पश्चिम रेलवे के वसई स्टेशन पर चलती ट्रेन में किकी चैलेंज का वीडियो बनाया और उसे अपने यू-ट्यूब चैनल पर पोस्ट किया।

श्याम शर्मा, ध्रुव और निशांत नाम के तीन युवकों की शिनाख्त कर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया। कोर्ट ने मामले की गंभीरता और युवकों की उम्र को देखते हुए उन्हें सुधरने के लिए ऐसी सजा देने का फैसला किया जिससे वे कुछ सबक ले सकें और समाज के लिए भी यह मिसाल बन सके।

लिहाजा, कोर्ट ने तीनों युवकों को वसई रेलवे स्टेशन पर लगातार तीन दिन तक सफाई करने की सजा सुनाई है। इसके साथ ही यह लोगों को भी समझा रहे हैं कि किकी चैलेंज के क्या घातक नतीजे हो सकते हैं। सोशल मीडिया पर उनके वीडियो वायरल हो जाने के बाद रेलवे सुरक्षा बल ने तीनों युवकों को गिरफ्तार कर वसई रेलवे कोर्ट में पेश किया।

VIDEO : 29 की उम्र में शहीद हुआ मेजर, अंतिम विदाई ऐसी कि लोग देखते रहे

श्याम शर्मा, ध्रुव और निशांत को जब पुलिस ने गिरफ्तार किया, तो वे रोने लगे थे। उन्होंने स्वीकार किया कि उनसे गलती हुई थी, इसलिए रेलवे कोर्ट ने तीनों युवकों को तीन दिन तक स्थानीय रेलवे स्टेशन को साफ करने का आदेश दिया। साथ ही उनसे कहा कि वे दूसरे रेलयात्रियों को किकी चैलेंज जैसे स्टंट से दूर रहने के बारे में जानकारी दें।

अधिकारी ने बताया कि रेलवे अदालत ने आदेश दिया है कि तीनों युवक रेलवे स्टेशन के सभी प्लेटफार्म को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक और इसके बाद दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक साफ करेंगे। साथ ही यात्रियों को किकी चैलेंज जैसे खतरनाक स्टंट के बारे में भी जागरुक करेंगे।

अधिकारियों ने बताया कि इन सभी को भारतीय रेल अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है। इन धाराओं के तहत एक साल तक की जेल और 500 रुपए के जुर्माने का प्रावधान है।

युवती ने खुद ट्रैक किया अपना चोरी हुआ मोबाइल, चोर को पकड़ा

Posted By: