जलगांव। महाराष्ट्र के जलगांव के सरकारी अस्पताल का एक वीडियो पिछले दिनों वायरल हुआ है, जिसमें दो नाबालिग बच्चों के शव को मुर्दाघर में सेंधा नमक में रखा गया है। कथित तौर पर इस घटना को दोनों की जिंदगी वापस लौटाने के लिए की गई कोशिश बताया जा रहा है। सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस इस घटना की सत्यता की पुष्टि करने की कोशिशों में जुटी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसी कड़ी में पुलिस ने संबंधित हॉस्पिटल के डीन को इस मामले को लेकर पत्र लिखा है। MIDC पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर रणजीत के मुताबिक 'शव चूंकि हॉस्पिटल के पास हैं ऐसे में हम इस घटना की पुष्टि नहीं कर सकते हैं।' हालांकि रणजीत ने इस घटना की पुष्टि करने के लिए अस्पताल के डीन को पत्र लिखने की पुष्टि की है।

सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें कथित तौर पर दो नाबालिगों के शवों को एक क्विंटल से भी ज्यादा सेंधा नमक से ढंका हुआ है। अधिकारी कहते हैं कि शायद ये उनकी जिंदगी दोबारा लौटने की उम्मीद में किया गया है।

दोनों मृतक जलगांव की मास्टर कॉलोनी के रहने वाले थे। शुक्रवार शाम को दोनों तालाब में डूब गए थे। पुलिस अधिकारी कहते हैं कि हादसे के बाद दोनों के शवों को शुक्रवार की रात ही पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया था। इसके बाद मुर्दाघर में क्या हुआ ये किसी को पता नहीं है।

Posted By: Neeraj Vyas