कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में पूरा देश अपने प्रधानमंत्री के साथ खड़ा है और लॉकडाउन के उनके फैसले का पालन कर रहा है। कोरोना के खिलाफ सरकार के बड़े फैसलों और तैयारियों की विदेशों में भी तारीफ हो रही है। इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महामारी से देश को निकालने में जुटे स्वास्थ्यकर्मियों का उत्साह बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। जो लोग इस दिशा में सराहनीय काम कर रहे हैं, पीएम खुद उनसे बात कर रहे हैं। ऐसा ही हुआ है पुणे में नर्स की नौकरी करने वालीं छाया जगताप के साथ। छाया स्थानीय नायडू अस्पताल में नर्स हैं जहां कोरोना पीड़ित मरीजों का इलाज हो रहा है।

पीएम मोदी ने शुक्रवार शाम को छाया के मोबाइल पर फोन लाया और मराठी में बात की शुरुआत की। दोनों की बातचीत का ऑडियो वायरल हो चुका है। पीएम मोदी ने छाया के हालचाल पूछे और यह भी जाना कि वे अपने परिवार को इस बीमारी के भय के कैसे दूर रख रही हैं। छाया ने पीएम से कहा कि उन्हें अपने परिवार की चिंता है, लेकिन काम भी जरूरी है। मरीजों की देखभाल भी जरूरी है। इसलिए वे मैनेज कर रही हैं।

पीएम ने पूछा कि क्या अस्पताल में भर्ती मरीज डरे हुए हैं, तो छाया ने कहा कि हम उनसे बात करते हैं और समझाते हैं कि उन्हें कुछ नहीं हुआ है और वे जल्दी स्वस्थ्य हो जाएंगे और अस्पताल से छुट्टी भी मिल जाएगी।

मोदी ने पूछा, पूरे देश के लिए क्या संदेश है

पीएम मोदी ने छाया से पूछा कि देशभर के स्वास्थ्यकर्मियों के लिए वे क्या संदेश जाना चाहेंगी, तो छाया ने कहा कि डरने की जरूरत नहीं है। हमें इस बीमारी को भगा देना है और अपने देश को विजयी बनाना है।

पीएम मोदी ने भी छाया की तारीफ करते हुए कहा कि आप जैसे कई डॉक्टर, नर्स आज कोरोना पीड़ित मरीजों को देखभाल कर रहे हैं। आप लोग तपस्वी हैं। मैं आपको बधाई देता हूं और आपके अनुभव सुनकर मुझे बहुत खुशी हुई।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020