नई दिल्ली। देश में अनुच्छेद 370 को लेकर सियासत गरमाई हुई है। कश्मीरी 37 दिनों से कड़े पहरे के बीच रह रहे हैं। इस बीच भाजपा नेता एवं केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का एक बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि 5 साल बाद कश्मीरी खुद समझेंगे कि उन पर अनुच्छेद 370 थोपा गया था। डॉ हर्षवर्धन ने पुणे में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान ये बात कही। इस दौरान उन्होंने अगले 5 सालों में जम्मू कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं में काफी इजाफा होने का दावा भी किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि पिछले 5 सालों में भी जम्मू कश्मीर में स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में खूब काम किया गया है। वहां पर AIIMS की स्थापना की गई और अब वह पूरी तरह से काम कर रहा है।

बता दें कि मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान बड़ा फैसला लेते हुए जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाते हुए विशेष राज्य का दर्जा वापस ले लिया था। इसके साथ ही लद्दाख को जम्मू कश्मीर से अलग करते हुए जम्मू कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया था।

इसके बाद से ही देश के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय राजनीति भी गरमा गई। भारत के इस निर्णय से सबसे ज्यादा परेशानी पाकिस्तान को हुई। यही वजह है कि जहां पाकिस्तान ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत पर दबाव बनाने की कोशिश की वहीं हम मोर्चे पर विफल होने के बाद भारत को परमाणु हमले तक की चेतावनी दे डाली थी।

अभी पाकिस्तान सीमा पर माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा है। पाक सेना की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है। वहीं पीओके में भी पाकिस्तान ने बड़ी संख्या में फौज तैनात कर दी है। पाकिस्तान भारत में आतंकी घुसपैठ कराने की योजना भी बना रहा है।

पाकिस्तान UNSC में भी इस मुद्दे को चीन की मदद से उठाने की कोशिश कर चुका है। लेकिन वहां भी उसे मुंह की खानी पड़ी है।