मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। एक उम्रदराज आदमी को ई-डेटिंग का शौक फरमाना महंगा पड़ गया। उसे पहले तो डेढ़ करोड़ की चपत लगी, बाद में वह अपने घर से भी हाथ धो बैठता। गनीमत रही कि उसे बेटे ने ऐसा नहीं होने दिया।

मुंबई में ई-डेटिंग फ्रॉड का एक अनोखा मामला सामने आया है। अनोखा इसलिए क्‍योंकि इसमें ठगे गए पीडि़त व्‍यक्ति की उम्र 79 साल है। उसे चपत भी छोटी-मोटी नहीं, बल्कि पूरे डेढ़ करोड़ रुपए की लगी है। यह घटना इस साल की शुरुआत में घटी। एक महिला ने उसे यूरोपियन सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म के बारे में बताया था। अब मुंबई की मुलुंड पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस का कहना है कि फरियादी एक रिटायर्ड इंजीनियर है। वह अपनी पत्‍नी की डेढ़ करोड़ रुपए मूल्‍य की ज्‍वैलरी गंवा चुका है।

इसके बाद वह अपना मुलुंड स्थित फ्लैट भी बेचने वाला था, लेकिन अमेरिका में रह रहे उसके बेटे ने उसे ऐसा करने से रोका। पुलिस ने बताया कि पीडि़त व्‍यक्ति एक स्‍पैनिश 44 वर्षीय महिला के संपर्क में आया था, जिसने अपना नाम विवियन लॉवेट बताया था।

उसने कहा था कि वह उसे ज्‍वैलरी से भरा एक पार्सल भेज रही है। जब इस व्‍यक्ति ने इसे लेने से इंकार कर दिया तो वह बोली कि इसे किसी अनाथाश्रम में जाकर दे दो। इस घटना के एक महीने बाद उसके बाद राधिका शर्मा नाम की एक महिला का फोन आया जिसने बताया कि वह कस्‍टम अधिकारी है और उसने उन्‍हें पार्सल पर ड्यूटी चुकाने को कहा। व्‍यक्ति ने इसे चुका भी दिया।

एक सप्‍ताह बाद उसे फिर से उसका फोन आया और वह बोली कि वह दिल्‍ली एयरपोर्ट पर विदेशी मुद्रा ले जाते हुए पकड़ी गई है और उस पर 30 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। इसे चुकाना होगा। पुलिस ने बताया कि ऐसे में शख्‍स ने अपनी पत्‍नी के गहने गिरवी रखकर रकम चुका दी। वह अपना फ्लैट भी बचेने वाला था लेकिन बेटे ने उसे ऐसा नहीं करने दिया।

Posted By: Navodit Saktawat