नागपुर। महाराष्ट्र के नागपुर में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। बेटे द्वारा की गई बेइज्जती का बदला लेने के लिए एक शख्स ने उसकी 65 साल की मां की हत्या कर डाली। इतना ही नहीं आरोपी ने महिला के शव को धान के चारे के साथ जला दिया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद हुई कड़ी पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूला। घटना 3 दिसंबर की है जब नागपुर शहर के कलामना इलाके में रहने वाली लीलाबाई सूर्यभान वासनिक की उस वक्त हत्या कर दी गई थी, जब वह डोगरामौला गांव में अपने फॉर्म पर चारे का स्टॉक करने गई थी।

पुलिस ने हत्या के मामले में शंका के आधार पर 22 साल के राजेश सोनटक्के को गिरफ्तार किया था। पुलिस द्वारा की गई कड़ी पूछताछ में आरोपी राजेश ने अपना जुर्म कबूल कर लिया और बताया कि उसने यह हत्या अपनी बेइज्जती का बदला लेने के लिए की।

आरोपी का एक दिन पहले हुआ था विवाद

लीलाबाई की हत्या करने के एक दिन पहले आरोपी राजेश का 2 दिसंबर को उसके बेटे से उस वक्त विवाद हो गया था जब उसके जानवर वासनिक परिवार के फॉर्म में घुस गए थे। इस घटना के बाद दोनों में झगड़ा बढ़ गया और लीलाबाई के बेटे ने राजेश को चांटा मार दिया था। इसके बाद राजेश ने बदला लेने की ठान ली थी।

3 दिसंबर को जब लीलाबाई अकेले अपने फॉर्म में पहुंची तो आरोपी ने बुजुर्ग महिला को अकेला पाकर सिर पर लोहे की रॉड से वार कर दिया। इससे लीलाबाई की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इसके बाद उसने शव को चारे के बीच में रखा और उसमें आग लगा दी। जब लीलावती घर नहीं पहुंची तो परिवार के लोगों ने उनकी तलाश शुरु की।

8 दिसंबर को सामने आया मामला

8 दिसंबर को जब मृतका की बेटी फॉर्म में गई तो उसे वहां एक खोपड़ी और कुछ हड्डियां मिली। इसके बाद परिवार ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और डीएनए टेस्ट के लिए अस्थियों को भेजा गया।

आरोपी ने कबूला जुर्म

मामले की जांच के दौरान पुलिस को मिली सूचना के आधार पर आरोपी राजेश को सोमवार रात को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ के दौरान आरोपी राजेश ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। राजेश ने बताया कि मृतका के बेटे से हुए विवाद के बाद वह बहुत गुस्से में था इसके बाद लीलावती को अकेला पाकर उसने हत्या को अंजाम दिया।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket