मुंबई। महाराष्ट्र में बारिश ने जमकर तांडव मचाया है। यहां लगातार हो रही बारिश की वजह से हो रहे हादसों में बड़ी संख्या में लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। बारिश का सबसे ज्यादा कहर पुणे संभाग में टूटा है। संभाग के 5 जिलों में जिंदगी बेपटरी हो गई है। यहां अब तक 43 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। वहीं NDRF सहित अन्य बचाव दल लगातार राहत कार्य करने में जुटे हुए हैं। महाराष्ट्र में अब तक 584 गांवों में से 4 लाख 74 हजार लोगों को निकाला जा चुका है। इन सभी को 596 अस्थाई कैंपों में रखा गया है।

पुणे संभाग के अंतर्गत सांगली, कोल्हापुर, सतारा, पुणे और सोलापुर जिले आते हैं। आफत की बारिश ने इन सभी जिलों को बुरी तरह से प्रभावित किया है। इसमें सबसे ज्यादा नुकसान सांगली, कोल्हापुर और सतारा में हुआ है।

हालांकि पिछले कुछ वक्त में बारिश के रौद्र रुप में थोड़ी कमी आई है। लेकिन नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स द्वारा लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इसी के साथ ही बाढ़ में फंसे लोगों को खाद्य सामग्री पहुंचाने के साथ ही रेस्क्यू किए गए मवेशियों के लिए चारा भी उपलब्ध कराया रहा है।

महाराष्ट्र के पुणे संभाग के साथ ही देश की आर्थिक राजधानी कहलाने वाली मुंबई के हाल भी बेहाल हैं। यहां भी बारिश ने लोगों की जिंदगी की रफ्तार को थाम लिया था। हालांकि अब हालात पहले से कुछ बेहतर हुए हैं।

Posted By: Neeraj Vyas