पुणे : उच्च पदों पर बैठे हुए बड़े-बड़े अधिकारी अपने पदों का जब नाजायज फायदा उठाते हैं तो एक न एक दिन भंडाफोड़ होता ही है। पुणे शहर से एक ऐसा ही मामला सामने आ रहा है, जहां एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मुफ्त में होटल से खाना मंगवाने की बात कह रहे हैं, उनका एक ऑडियो क्लिप बड़ी ही तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस ऑडियो क्लिप में डीसीपी पास के ही एक रेस्तरां से खाना मंगवाने के लिए कह रहे हैं इतना ही नहीं इसमें उन्होंने बिरयानी के साथ, देसी घी में पकाए गए झींगे जैसे खाना मंगवाने का भी जिक्र किया है। क्योंकि वो रेस्तरां उनके अधिकार क्षेत्र में आता है।

पुणे के डीसीपी का यह मामला तब उजागर हुआ जब किसी गुमनाम ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। डीसीपी की शिकायत मिलने पर महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने संबंधित अधिकारी के खिलाफ जांच का आदेश दिया है और पुणे के पुलिस आयुक्त को इस विषय को देखने और उचित कानूनी कार्रवाई शुरू करने का निर्देश दिया है। डीसीपी ने इन आरोपों को निराधार बताकर बदनाम करने की साजिश बताई है।

उन्होंने कहा कि ‘‘यह मेरे खिलाफ एक शर्मनाक अभियान है, कुछ पुलिस अधिकारी ऐसे हैं, जो कई सालों से एक ही जोन में तैनात हैं। चूंकि इस क्षेत्र में उनके वित्तीय हित खतरे में है, इसलिए विभाग के कुछ लोग मुझे बाहर करना चाहते हैं क्योंकि जब मैंने पदभार संभाला तो उनका संचालन रूक गया था।’’ डीसीपी ने कहा कि इस मामले को साइबर क्राइम यूनिट जांच करेगी।

Posted By: Arvind Dubey