Sanjay Raut: शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत अपने विवादित बयानों को लेकर पिछले कुछ वक्त से लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। अब एक बार फिर उन्होंने वीर सावरकर को लेकर बड़ा बयान दिया है। राउत ने कहा कि जो लोग सावरकर का विरोध करते हैं उन्हें दो दिन के लिए अंडमान में बनी जेल में रखा जाना चाहिए जिससे उन्हें सावरकर की कुर्बानी का अहसास हो सके। संजय राउत के इस बयान से शिवसेना ने किनारा कर लिया है। शिवेसना विधायक आदित्य ठाकरे ने राउत के बयान को उनके निजी विचार बताया है। इसके साथ ही आदित्य ने कहा कि इतिहास के बजाय वर्तमान विषयों पर चर्चा करने की ज्यादा जरूरत है। बता दें कि वीर सावरकर को लेकर हाल ही में राहुल गांधी का विवादित बयान भी सामने आ चुका है। ऐसे में वीर सावरकर पर राउत के बयान से फिर राजनीति गरमा सकती है।

संजय राउत ने दिया था यह बयान

वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस सहित कई दल पूर्व में विवादित बयान दे चुके हैं। उस सभी की ओर इशारा करते हुए संजय राउत ने कहा 'जो लोग सावरकर का विरोध करते हैं फिर वे चाहे किसी भी विचारधारा या पार्टी के हों, उन्हें सिर्फ 2 दिन के लिए अंडमान की उस सेल्यूलर जेल में रहना चाहिए जहां सावरकर को बंदी बनाकर रखा गया था। उसके बाद ही उन्हें अहसास होगा कि सावरकर ने राष्ट्र के लिए क्या कुर्बानी दी थी।'

इंदिरा गांधी पर दिया था विवादित बयान

संजय राउत हाल ही में इंदिरा गांधी पर भी विवादित बयान दे चुके हैं। जिस पर विवाद बढ़ने के बाद उन्हें अपना बयान वापस लेना पड़ा है। संजय राउत ने कहा था कि मुंबई के माफिया डॉन करीम लाला से मुलाकात करने के लिए इंदिरा गांधी आती थीं। इस बयान को लेकर कांग्रेस की ओर से जमकर आपत्ति दर्ज कराई गई थी। मामले के तूल पकड़ने के बाद राउत को यू टर्न लेना पड़ा था।

Posted By: Neeraj Vyas