मुंबई। दक्षिणी मुंबई के क्राफोर्ड मार्केट में तीन मंजिला इमारत मंगलवार रात को ढ़ह गई। अधिकारियों ने बताया कि मलबे से 14 लोगों को जिंदा निकाल लिया गया। हादसे की खबर मिलते ही फायर ब्रिगेड के अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। बताया जा रहा है कि रात करीब 9.15 मिनट पर यूसुफ बिल्डिंग अचानक गिर गई।

शुरुआत में मुंबई फायर ब्रिगेड के अधिकारियों ने कहा था कि मलबे में तीन से चार लोगों के फंसे होने की आशंका है। मगर, जैसे-जैसे मलबा हटाया जाने लगा, उसमें फंसे लोगों की संख्या बढ़ती गई। हालांकि, हादसे में किसी के मारे जाने या गंभीर रूप से घायल होने की खबर नहीं है।

डिजास्टर मैनेजमेंट सेल के एक अधिकारी ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड और बीएमसी के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए थे। मुंबई फायर ब्रिगेड के प्रमुख पीएस राहंगडेल ने कहा कि एहतियात के तौर पर द्वारकादास इमारत और यूसुफ इमारत के शेष हिस्से को खाली करा लिया गया है।

बताते चलें कि इससे पहले इस साल जुलाई में मुंबई के डोंगरी इलाके में चार मंजिला इमारत गिरने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई थी और नौ अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बताया गया था कि वह इमारत करीब 100 साल पुरानी थी और उसे खाली करने के लिए साल 2017 में नोटिस भी जारी किया गया था।