Maharashtra: कल्याण स्टेशन पर ट्रेन ड्राइवर की समझदारी और तत्परता की वजह से 70 साल की एक बुजुर्ग की जान बच गई। मध्य रेलवे के मुताबिक रविवार को कल्याण स्टेशन पर रेल पटरियों को पार कर रहे एक वरिष्ठ नागरिक ट्रेन के नीचे फंस गया, लेकिन मौजूद अधिकारियों की तत्परता की वजह से उसे बचा लिया गया। बुजर्ग जिस समय रेलवे ट्रैक को क्रॉस कर रहा था, उसी समय मुंबई-वाराणसी ट्रेन वहां से गुजरने लगी। पटरी पर गिरे बुजुर्ग को ड्राइवर ने नहीं देखा, लेकिन मार्ग निरीक्षक के सतर्क करने पर उन्होंने तुरंत आपातकालीन ब्रेक लगा दिया। बाद में ट्रेन के नीचे फंसे बुजुर्ग को सुरक्षित निकाल लिया गया।

जानिये पूरी घटना

ये घटना रविवार दोपहर करीब की है। ठाणे जिले के कल्याण रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक से एक ट्रेन निकली, तो मुख्य स्थायी मार्ग निरीक्षक (CPWI) संतोष कुमार ने देखा कि एक बुजुर्ग उसी ट्रैक को पार करने की कोशिश में गिर गया है। उसने फौरन लोको पायलट एस के प्रधान और सहायक लोको पायलट रविशंकर को सतर्क किया। दो लोको पायलटों ने तुरंत आपातकालीन ब्रेक लगाए, लेकिन गाड़ी धीमी होती हुई 70 साल के हरि शंकर के करीब पहुंच गई और बुजुर्ग ट्रेन के नीचे फंस गये। बाद में लोको पायलटों और रेलवे कर्मियों ने उन्हें नीचे से खींच कर निकाल लिया।

CPWI की सूझबूझ और लोको पायलटों की तत्परता की वजह से बुजुर्ग की जान बच गई। अधिकारियों ने बताया कि मध्य रेलवे के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने दो लोको पायलटों और सीपीडब्ल्यूआई को दो-दो हजार रुपये नकद इनाम देने की घोषणा की है। वैसे घटना के बाद मध्य रेलवे ने एक एडवाइजरी जारी कर लोगों से रेल पटरियों को पार न करने को कहा और चेतावनी दी कि यह घातक साबित हो सकता है।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close