नागपुर। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की तबीयत एक बार फिर से बिगड़ गई। चक्कर आने के चलते उन्हें राष्ट्रगान के दौरान नीचे बैठना पड़ा। बुधवार को सोलापुर स्थित पुण्यश्लोक अहिल्यादेवी होल्कर यूनिवर्सिटी में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर गडकरी आमंत्रित थे। कार्यक्रम की समाप्ति पर जब राष्ट्रगान हो रहा था तभी उन्हें चक्कर आ गया और वह नीचे बैठ गए। डॉक्टरों के मुताबिक एंटीबायोटिक की ज्यादा मात्रा में दवाएं लेने के चलते उन्हें चक्कर आया है। बुधवार को गले में संक्रमण के चलते उन्होंने यह दवाएं ली थीं।

राष्ट्रगान के लिए खड़े थे तभी चक्कर आया

एक वीडियो फुटेज में दिखाया गया है जब गडकरी राष्ट्रगान के लिए खड़े थे तभी उन्हें चक्कर आया और वह अपनी बायीं ओर झुके। उन्हें गिरता देख पीछे खड़े सुरक्षा कर्मी ने उन्हें संभाला और कुर्सी पर बैठाया। कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे केंद्रीय मंत्री के सहयोगी ने बताया कि एंटीबायोटिक दवाओं की भारी मात्रा लेने की वजह से गडकरी पहले से ही बेचैनी महसूस कर रहे थे।

शाम को किया फिट महसूस

शाम को गडकरी अपने नागपुर स्थित आवास लौट आए और अपने को बिल्कुल फिट बताया। जिस समय वह नागपुर एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात कर रहे थे उसी समय अमरावती में महा जनसंदेश यात्रा से लौट रहे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से उनकी मुलाकात हुई।

पहले भी हो चुका है ऐसा

यह पहली बार नहीं है जब सार्वजनिक कार्यक्रम के किसी मंच पर उनकी तबीयत बिगड़ी है। दिसंबर में अहमदनगर स्थित महात्मा फुले कृषि विश्वविद्यालय का दीक्षा समारोह चल रहा था।

इसमें गडकरी भी मौजूद थे। राष्ट्रगान के दौरान वह बेहोश होकर गिरने ही वाले थे कि राज्यपाल सी विद्यासागर राव ने उन्हें संभाल लिया।

बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसी वर्ष अप्रैल में अहमदनगर के शिरडी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए वह मंच पर बेहोश हो गए थे।