नागपुर। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने मैदान पकड़ लिया है। इसी बीच मंगलवार को नागपुर में आयोजित महात्मा फुले एजुकेशन सोसाइटी के 60वें स्थापना दिवस आयोजित कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय परिवहन मंत्री ने आरक्षण को लेकर बयान दिया है।

गडकरी ने कहा कि दलित, सामाजिक एवं आर्थिक रुप से पिछड़े लोग, प्रताड़ित लोगों का या समुदाय को सिर्फ आरक्षण देने से उन्नति होगी यह सच नहीं है।

बता दें कि कार्यक्रम के दौरान माली समाज के कुछ नेताओं ने अपना प्रतिनिधित्व बढ़ाने के लिए राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में ज्यादा टिकट दिए जाने की मांग उठाई थी। बाद में गडकरी ने उन्हें आरक्षण से आगे बढ़कर देखने की नसीहत भी दी।

गडकरी ने कहा 'जब लोग अपने काम के आधार पर टिकट हासिल करने में नाकाम हो जाते हैं तो वे लोग जाति का कार्ड खेलने की कोशिश करते हैं।'

उन्होंने कहा 'जॉर्ज फर्नांडिस किस जाति से ताल्लुक रखते थे? वे किसी जाति से ताल्लुक नहीं रखते थे...वह क्रिश्चिन थे। इंदिरा गांधी उनकी जाति की वजह से सत्ता में नहीं आईं थी। अशोक गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं क्योंकि उन्हें दूसरे समुदाय के लोगों ने सहयोग किया।'

बता दें कि महाराष्ट्र में साल के आखिर में चुनाव होने वाले है। ऐसे में आरक्षण के आधार पर टिकट मांगने वाले उम्मीदवार भी सामने आने लगे हैं।

Posted By: Neeraj Vyas