महाराष्ट्र में कोरोना संकट के बीच एक बार फिर सियासत गरमाने लगी है। राज्य में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में लगातार हो रहे इजाफे के बाद भाजपा ने सूबे में जहां राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग कर डाली है। वहीं, भाजपा के वरिष्ठ नेता नारायण राणे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार की राज्यपाल से की गई अलग-अलग मुलाकात ने सियासी पारे को और बढ़ा दिया है। बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की हालत बेहद खराब हो गई है। यहां 30 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज अब तक सामने आ चुके हैं। इसे लेकर भाजपा ने यह मांग उठाई है। वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि उसे सत्ता से बाहर होना बर्दाश्त नहीं हो रहा है।

संजय राउत ने कही ये बात

महाराष्ट्र में सियासी पारा गरमाने के बाद शिवसेना सांसद एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय राउत का एक ट्वीट सामने आया है। राउत ने भाजपा के सारे आरोपों को लेकर कहा कि सरकार मजबूत है और चिंता की कोई बात नहीं है। राउत ने पुष्टि करते हुए कहा कि 'कल शाम मातोश्री में सीएम उद्धव ठाकरे और शरद पवार की डेढ घंटे तक चर्चा हुई। अगर कोई सरकार की स्थिरता को लेकर खबरें फैला रहा है तो इसे पेट में दर्द माना जाना चाहिए। सरकार मजबूत है।'

भाजपा नेता राणे ने लगाया ये आरोप

भाजपा के वरिष्ठ नेता नारायण राणे ने उद्धव सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 'सरकार कुछ नहीं कर सकती। लोगों की जान नहीं बचा सकती है। सरकार फेल हो रही है।' राणे ने कहा कि इस सरकार में कोरोना से निपटने की क्षमता भी नहीं है। इसलिए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020