महाराष्ट्र, गुजरात समेत पांच राज्यों पर असर दिखाने के बाद चक्रवाती तूफान निसर्ग निकल गया है। इस भयानक तूफान के दौरान मुंबई महानगर पालिका ने गाइडलाइन जारी कर लोगों को कुछ जरूरी बातों का ख्याल रखने को कहा। इन दिशा-निर्देशों के अनुसार, जब चक्रवाती तूफान आए तो सभी अपने LPG सिलेंडर का रेग्युलेटर स्विच ऑफ कर दें और Mobile फोन पूरी तरह चार्ज रखें। चक्रवाती तूफान ही नहीं, हर तरह की प्राकृतिक आपदा के समय इन नियमों का पालन मुश्किल आसान कर सकता है। साथ ही बीएमसी ने लोगों से साथ में हथौड़ा रखने को भी कहा है। अधिकारियों के मुताबिक, तूफान के समय यदि कोई शख्स अपनी कार में फंस जाता है तो हथौड़ा काम आ सकता है। तूफान के दौरान कई जगह कारों पर पेड़ गिरने के दृश्य भी सामने आए हैं।

क्या करें

  • घर के बाहर खुली रखी चीजों को किसी मजबूत चीज से बांध दें या घर में रख लें
  • महत्वपूर्ण दस्तावेजों और आभूषणों को एक प्लास्टिक बैग में सील करें
  • बैटरी से चलने वाली चीजें और पॉवर सिस्टम को नियमित रूप से जांचते रहें
  • टीवी और रेडियो पर आधिकारिक निर्देशों पर ध्यान दें
  • आपात स्थिति में उठाए जाने वाले कदमों का अभ्यास करें
  • यदि आप मिट्टी के घर / झोपड़ी में नहीं रहते हैं, तो घर के एक हिस्से को आपातकालीन आश्रय के रूप में चुनें और अभ्यास करें कि घर के सदस्य तूफान के दौरान उस स्थान का उपयोग कैसे करेंगे
  • एक आपातकालीन किट तैयार रखें
  • खिड़कियों से दूर रहें। कुछ खिड़कियां बंद करें और कुछ खुली रखें ताकि दबाव बना रहे
  • कमरे के बीचों-बीच रहें। कोनों से दूर रहें क्योंकि अक्सर कोनों में मलबा जमा हो जाता है
  • मजबूत फर्नीचर जैसे कि स्टूल या भारी टेबल या डेस्क के नीचे छिएं, इसे जोर से पकड़े रखें
  • अपने सिर और गर्दन की सुरक्षा के लिए अपने हाथों का उपयोग करें
  • बड़े छत वाले स्थानों जैसे ऑडिटोरियम या शॉपिंग मॉल से बचें
  • यदि आप किसी खुली जगह पर हैं और पर्याप्त समय है, तो निकटतम स्थातन पर आश्रय ढूंढें
  • सभी गैर-आपातकालीन उपकरणों और उपकरणों की बिजली की आपूर्ति को डिस्कनेक्ट करें
  • पीने का पानी साफ जगह पर स्टोर करें
  • फंसे हुए या घायल हुए लोगों की मदद करें। जरूरत पड़ने पर प्राथमिक उपचार दें
  • यदि आपको गैस से बदबू आती है या कोई लीक की आवाज सुनाई देती है, तो तुरंत खिड़कियां खोलें और इमारत से बाहर निकलें। यदि संभव हो, तो गैस वाल्व बंद करें और गैस कंपनी को रिपोर्ट करें
  • बिजली के उपकरणों को हुए नुकसान की जांच करें। यदि आप स्पार्क, बिजले के खुले तारों, या रबर की गंध महसूस करते हैं, तो बिजली की आपूर्ति काट दें और इलेक्ट्रीशियन को बुलाएं
  • शारीरिक रूप से विकलांग, बुजुर्ग, पड़ोसियों की मदद करें।

क्या न करें

  • अफवाहें न फैलाएं और ना ही भरोसा करें
  • चक्रवात के दौरान किसी भी वाहन को चलाने या सवारी करने का प्रयास न करें
  • क्षतिग्रस्त इमारतों से दूर रहें
  • घायलों को स्थानांतरित न करें जब तक कि ऐसा करना बिल्कुल सुरक्षित न हो। इससे अधिक नुकसान हो सकता है
  • तेल और अन्य ज्वलनशील पदार्थों को फैलने से रोकें। तुरंत साफ करें।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना