नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से तिरंगा फहराने के बाद अपने संबोधन में कई घोषणाओं के साथ सरकार का लक्ष्य स्पष्ट कर दिया। भाषण में सबसे पहले प्रधानमंत्री ने देशवासियों को रक्षाबंधन पर्व की बधाई दी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त की और राहत कार्यों में लगे कर्मियों का धन्यवाद व्यक्त किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण के दौरान ये प्रमुख बाते कही -

अनुच्छेद 370 और कश्मीर मुद्दे का जिक्र

PM मोदी ने कहा कि हम समस्याओं को टालते नहीं है और ना ही समस्याओं को पालते हैं। हम समस्याओं टालने और पालने का वक्त नहीं है। जो काम 70 साल में नहीं हुआ। वह 70 दिन के भीतर हुआ। अनुच्छेद 370, 35A को हटाने का काम लोकसभा और राज्यसभा ने दो तिहाई बहुमत से खत्म कर दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग अनुच्छेद 370 का समर्थन करते हैं तो उनसे देश पूछ रहा है कि इतना महत्वपूर्ण था तो उसे अस्थाई क्यों बनाकर रखा गया था, परमानेंट क्यों नहीं कर दिया गया। इसका कारण ये था कि कुछ स्वार्थों के लिए इसमें सुधार करने की नीयत नहीं थी।

तीन तलाक

PM मोदी ने कहा कि नई सरकार ने 10 सप्ताह भी पूरे नहीं किए हैं, लेकिन इस छोटे समय में सभी क्षेत्रों में महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। हमारी मुस्लिम बेटियों के सिर पर 3 तलाक की तलवार लटकी हुई थी। वे डरी हुई जिंदगी जीती थी। वे कभी भी 3 तलाक का शिकार हो सकती हैं, यह भय उनको जीने नहीं देता था। दुनिया के कई इस्लामिक देशों ने इस कुप्रथा को हमसे बहुत पहले खत्म कर दिया, लेकिन किसी ना किसी कारण से हम मुस्लिम माताओं-बहनों को हक देने से हम हिचकिचाते थे।

पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था

पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था कई लोगों को मुश्किल लग सकती है मैं मानता हूं चुनौती बड़ी है लेकिन सोचेंगे नहीं तो देश कैसे चलेगा, हम आगे कैसे बढ़ेंगे। हमारा सपना बड़ा होना चाहिए। आजादी के 70 सालों में देश दो ट्रिलियन इकोनॉमी तक पहुंचा। फिर 2014 से 19 तक हम लोग 2 से 3 ट्रिलियन तक पहुंच गए। देशवासी साथ चलें तो पांच ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था मुश्किल नहीं।

10 हफ्तों में 60 कानूनों को खत्म किए

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने रोजाना एक कानून को खत्म किया है, ताकि लोगों पर से बोझ कम हो सके। इस सरकार के 10 हफ्तों में भी 60 कानूनों को खत्म किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि अब जरूरत है कि धीरे-धीरे सरकारें लोगों के जीवन से बाहर निकले और लोग आजादी से अपने आप को आगे बढ़ा सकें।

जनसंख्या विस्फोट

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे यहां बेतहाशा जनसंख्या विस्फोट हो रहा है। यह आने वाली पीढ़ियों के लिए अनेक संकट पैदा करता है। हमारे देश में एक जागरूक वर्ग है जो इस बात को भली-भांति समझता है वह अपने घर में शिशु को जन्म देने से पहले सोचता है कि मैं उसकी जरूरतों को पूरा कर पाऊंगा कि नहीं। आज भी खुद की प्रेरणा से एक छोटा वर्ग परिवार को सीमित रखकर अपना भी भला करता है और देश की भलाई में भी बड़ा योगदान देता है। समाज के बाकी वर्गों को जोड़कर हमें जनसंख्या विस्फोट की चिंता करनी होगी। राज्यों और केंद्र सरकार को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से इस काम को करना होगा।

एक देश, एक संविधान, एक टैक्स, एक ग्रिड, एक इलेक्शन

प्रधानमंत्री ने अनुच्छेद-370 के संबंध में कहा कि आज पूरा देश कह सकता है- एक देश.. एक संविधान। जीएसटी के माध्यम से वन नेशन वन टैक्स के सपने को पूरा किया। पिछले दिनों वन नेशन-वन ग्रिड को सफलतापूर्वक किया। वन नेशन वन मोबिलिटी कार्ड की व्यवस्था की। आज देश में व्यापक रूप से चर्चा है, वन नेशन वन इलेक्शन।

जल जीवन मिशन की घोषणा

आजादी के 70 साल हो गए। हर किसी दल ने देश के विकास में योगदान दिया, लेकिन आज भी देश में आधे घर ऐसे हैं, जहां पीने के लिए शुद्ध पानी नहीं मिल रहा है। कई क्षेत्र तो ऐसे हैं, जहां महिलाओं को कई किलोमीटर पैदल चलना है। आज मैं घोषणा करता हूं कि सरकार आने वाले दिनों ने जल जीवन मिशन शुरू करेगी। इसके लिए सरकार करीब साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए खर्च करेगी। केंद्र और राज्य सरकार इसके मिशन के लिए साथ मिलकर काम करेगी। मोदी ने कहा कि मेरा जन्म गुजरात में हुआ। गुजरात में एक तीर्थस्थल है महुड़ी। यहां एक जैनसंत 100 साल पहले लिख कर गए हैं कि पानी किराने के दुकान में बिकेगा।

चीफ ऑफ डिफेंस की नियुक्ति

पीएम मोदी ने कहा कि देश में एक नया चीफ ऑफ डिफेंस का पद होगा। यह थल, जल और वायु सेना, तीनों बलों के बीच बेहतरीन सामन्जस्य स्थापित करने का काम करेगा। प्रधानमंत्री ने तीनों सेनाओं के समन्वय की तारीफ की। उन्होंने कहा कि सेना के तीनों अंग साथ मिलकर काम करते हैं और रक्षा क्षेत्र में नई ऊंचाईयां हासिल की। प्रधानमंत्री ने कहा कि जल्द ही देश में चीफ ऑफ आर्मी डिफेंस (सीडीएस) मिलेगा। लंबे समय से देश में इसकी मांग थी।

इन्फ्रास्ट्रक्चर पर खर्च होंगे 100 लाख करोड़

पीएम मोदी ने कहा हमें आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर जोर देना होगा। इसकी तरफ हमारा ध्यान है। 100 लाख करोड़ रुपया आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर में लगाएं जाएंगे। इसमें सागरमाला, भारतमाला, रेलवे स्टेशन का आधुनिकिकरण शामिल है।

प्लास्टिक पर पाबंदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब हमें सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद होना चाहिए। क्या महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर से इसकी शुरुआत कर सकते हैं। दुकानदार दुकान के बाहर लिख दें कि हमसे प्लास्टिक की थैली की मांग न करें, कपड़े का थैला लेकर आएं। वर्ना वे खुद ही कपड़े का थैला बेचना शुरू कर दें। मैं सभी दुकानदारों से आग्रह करूंगा कि दुकान पर एक बोर्ड यह भी लगाएं कि कृपया हमसे प्लास्टिक की थैली की अपेक्षा न करें।