राकेश शर्मा (कठुआ)। जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन (अनुच्छेद 370 हटाने) की पहली वर्षगांठ पर पांच अगस्त को कठुआ जिले में अब तक का सबसे ऊंचा तिरंगा मुखर्जी चौक पर लहराएगा। 110 फीट ऊंचे तिरंगे को भाजपा स्थापित कर रही है। यह तिरंगा 24 फीट लंबा और 15 फीट चौड़ा होगा। यह तिरंगा शान से दिन-रात लहराता रहेगा। इसकी तैयारियां कुछ दिनों से चल रही हैं।

तिरंगा स्थापित करने वाली जगह पर शुक्रवार को फाउंडेशन (झंडा चौक) तैयार कर लिया गया है। डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने जिस सपने के लिए अपना बलिदान दिया, उसी की वर्षगांठ पर इस तिरंगे को स्थापित किया जा रहा है। 70 साल पहले जम्मू-कश्मीर में एक विधान, एक निशान, एक प्रधान का सपना देखने वाले डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा भी यहां पिछले वर्ष स्थापित की गई थी। मुखर्जी वर्ष 1953 में एक विधान-एक निशान के लिए हुए आंदोलन में शहीद हुए थे। कभी पोस्ट ऑफिस चौक से चर्चित मुखर्जी चौक अब अगली पीढ़ी को देश भक्ति की प्रेरणा देता रहेगा।

भाजपा के पूर्व मंत्री राजीव जसरोटिया, नगर परिषद के प्रधान नरेश शर्मा के प्रयासों से शहर के मध्य स्थापित किए जा रहे 110 फीट ऊंचे तिरंगे से शहर को नई दिशा मिलेगी। अभी तक इतना ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज जिले में कहीं स्थापित नहीं हुआ है। यह जिले का ऐतिहासिक स्मारक बनेगा।

इससे पहले जम्मू संभाग में जम्मू विश्वविद्यालय में 15 अगस्त, 2018 में 132 फीट ऊंचा तिरंगा स्थापित किया गया था।

रात को भी लहराएगा तिरंगा :

इस तिरंगे को शाम के समय भी उतारा नहीं जाएगा, क्योंकि इसकी ऊंचाई सौ फीट से ज्यादा है। सौ फीट से कम ऊंचाई वाले तिरंगे को शाम को सम्मान सहित उतारा जाता है। इस तिरंगे से कठुआ शहर को एक नई पहचान मिलेगी।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan