देश में अभी कोरोना का खतरा टला नहीं है। रोज हजारों की संख्‍या में नए केस आ रहे हैं और मरने वालों की संख्‍या भी रोज 400 से अधिक दर्ज की जा रही है। हालांकि सक्रिय मामलों की संख्या पांच महीने में सबसे कम हुई है, परंतु नए मामले एक दिन पहले की तुलना में 10 हजार से ज्यादा बढ़ गए हैं। नए मामलों के 30 से 40 हजार के बीच रहना चिंता का कारण है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बुधवार सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान सक्रिय मामलों में करीब ढाई हजार की कमी आई है और वर्तमान में कुल सक्रिय मामले 3,67,415 रह गए हैं जो कुल मामलों का 1.14 फीसद है। संख्या के मामले में 148 दिन बाद और प्रतिशत के हिसाब से पिछले साल मार्च के बाद सक्रिय मामले सबसे निचले स्तर पर पहुंचे हैं।

केरल में कोरोना महामारी की स्थिति में सुधार नहीं हो रहा है। पूरे देश में सामने आ रहे नए मामलों में से आधे से ज्यादा केरल में ही मिल रहे हैं। गत 24 घंटों के दौरान नए मामले 35 हजार से ज्यादा पाए गए हैं, जिनमें से 21 हजार से ज्यादा अकेले केरल से हैं। 440 लोगों की जान भी चली गई है। वैसे मरीजों के उबरने की दर में सुधार ही हुआ है और मृत्यु दर में कोई बदलाव नहीं आया है। साप्ताहिक और दैनिक संक्रमण दर भी तीन फीसद से नीचे ही है।

Posted By: Navodit Saktawat