कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपनी 17 महीने पुरानी कैबिनेट में सात नए मंत्रियों को शामिल कर लिया है। नए मंत्रियों में विधायकों में उमेश कट्टी (हुक्केरी), एस. अंगारा (सुलिया), मुरुगेश निरानी (बिल्गी), अरविंद लिम्बावली (महादेवपुरा) और एमएलसी में आर. शंकर, एमटीबी नागराज और सीपी योगेश्वर शामिल किए गए हैं। इसके बाद कर्नाटक मंत्रिमंडल ने 28 जनवरी से पांच फरवरी तक कर्नाटक विधानसभा का संयुक्त सत्र कराने का फैसला लिया है। शपथ ग्रहण समारोह में बुधवार को मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के साथ उनके मंत्रिमंडल सदस्य, कर्नाटक के प्रभारी व भाजपा महासचिव अरुण सिंह, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नलिन कुमार कटील और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी आदि मौजूद थे। कांग्रेस-जद एस की सरकार के 17 विधायकों की बगावत के बाद भाजपा सरकार के जुलाई, 2019 में प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद से येदियुरप्पा मंत्रिमंडल में यह तीसरा विस्तार है। कैबिनेट में पार्टी के पुराने नेताओं के साथ ही कांग्रेस व जद एस के बागियों को भी शामिल किया गया है। राज्यपाल विजुभाई वाला ने सात नए कैबिनेट मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। येदियुरप्पा ने अपना वादा पूरा करते हुए कांग्रेस-जद एस बागी से भाजपा एमएलसी बने आर.शंकर और एमटीबी नागराज को कैबिनेट में जगह दी, जिन्होंने येदियुरप्पा की सत्ता में आने में मदद की थी।

बागियों को भाजपा तक लाने में अहम भूमिका निभाने वाले एमएलसी योगेश्वर को भी कैबिनेट में जगह मिली है। कट्टी (आठ बार विधायक), अंगारा, निरानी और लिंबावली (प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष) भाजपा के पुराने नेता हैं जिन्हें मंत्रिमंडल में जगह मिली है। येदियुरप्पा के आबकारी मंत्री को हटाने के बाद अधिकतम 34 सदस्य की क्षमता वाले मंत्रिमंडल में सिर्फ एक सीट खाली रहेगी।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti