गुवाहाटी: असम के मुख्य शहर के बाहरी इलाके में राष्ट्रीय राजमार्ग 37 पर स्थित एक लक्जरी होटल रैडिसन ब्लू ने तब से सभी का ध्यान आकर्षित किया है जब से शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे और पार्टी के 36 विधायक और नौ निर्दलीय वहां पहुंचे। इससे महाराष्ट्र की महा विकास अघाडी सरकार के लिए एक संभावित खतरा पैदा हो गया। इस सप्‍ताह सोमवार की शाम को शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना के बागी विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी शासित गुजरात के एक शहर सूरत के एक होटल में चेक-इन किया। यहां से वे बुधवार सुबह असम के गुवाहाटी गए। गुवाहाटी में गोपीनाथ बोरदोलोई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर इन विद्रोही विधायकों को पुलिस असम राज्य परिवहन निगम द्वारा संचालित तीन लक्जरी बसों में रैडिसन ब्लू होटल ले गई। समाचार एजेंसी आईएएनएस ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि लग्जरी होटल में 56 लाख रुपये में 70 कमरे बुक किए गए हैं। होटल में बड़ा सा आयोजन स्थान, एक पूल, एक स्पा और पांच रेस्तरां हैं। इसके अलावा, भोजन और अन्य सेवाओं पर प्रति दिन 8 लाख रुपये (सात दिनों के लिए 56 लाख रुपये) खर्च होने का अनुमान है। सात दिनों के प्रवास की पूरी लागत 1.12 करोड़ रुपये है।

41 विधायकों के साथ वीडियो और तस्वीरें पोस्ट

अपनी ताकत दिखाने के लिए शिंदे ने गुरुवार को होटल के 41 विधायकों के साथ वीडियो और तस्वीरें पोस्ट की, जिससे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के लिए और मुश्किलें खड़ी हो गईं। तस्वीरों में एक हॉल में बागी विधायकों को शिवसेना, बालासाहेब ठाकरे और एकनाथ शिंदे के लिए नारे लगाते हुए दिखाया गया है। वीडियो में शिंदे को गुवाहाटी के होटल में शिवसेना के बागी विधायकों के समूह को संबोधित करते देखा जा सकता है। "हमारी चिंताएं और खुशी समान हैं। हम एकजुट हैं और जीत हमारी होगी। एक राष्ट्रीय पार्टी है, एक महाशक्ति ... आप जानते हैं कि उन्होंने पाकिस्तान को हराया। उस पार्टी ने कहा है कि हमने एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है और प्रदान करने का आश्वासन दिया है।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close